comscore

CG कोरोना ब्रेकिंग : कलेक्टरेट में कोरोना विस्फोट…..डिप्टी डायरेक्टर, ज्वाइंट कलेक्टर सहित आधा दर्जन से अधिक कोरोना पॉजेटिव….एक की मौत भी हुई….इन विभागों में मचा हड़कंप

कोरबा 28 मार्च 2021। कोरबा से बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है, यहां कलेक्ट्रेट कार्यालय में संचालित खनिज विभाग के दफ्तर में कोरोना का जबर्दस्त संक्रमण फैला है। विभाग के डिप्टी डायरेक्टर सहित आधा दर्जन अधिकारी कर्मचारी जहां कोरोना संक्रमित है, वही एक कर्मचारी की आज तड़के कोरोना संक्रमण से कोविड हॉस्पिटल में मौत हो गयी है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में एक बार फिर कोरोना ने अपना पैर पसारना शुरू कर दिया है। कोरोना के बढ़ते मामलो को देखते हुए कोरबा कलेक्टर किरण कौशल ने जिले में धारा 144 लागू कर सख्ती अपनाना शुरू कर दिया है। लेकिन वहीं दूसरी तरफ कोरबा कलेक्ट्रेट में ही कोरोना संक्रमण ने दस्तक दे दी है।

पिछले एक सप्ताह के भीतर कलेक्ट्रेट कार्यालय में संचालित माईनिंग विभाग के डिप्टी डायरेक्टर एस.एस.नाग सहित माईनिंग आफिसर दीपक मिश्रा सबसे पहले कोरोना से संक्रमित हुए। दोनों अफसरो का चिंताजनक हालत में ईलाज रायपुर में चल रहा है। वहीं इन अधिकारियों के संक्रमित होने के बाद माइनिंग आफिस की एक महिला कर्मचारी सहित दो सीनियर बाबू कोरोना से संक्रमित हो गये। माईनिंग विभाग में सहायक ग्रेड-1 के पद पर कार्यरत ज्ञानेश्वर सिंग की तबियत दो दिन पहले अचानक बिगड़ गया, सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हे कोविड हाॅस्पिटल में चिंताजनक हालत में वेंटिलेटर पर रखा गया था, जहां आज तड़के ज्ञानेश्वर सिंह की मौत हो गयी। वहीं गौर करने वाली बात ये है कि माईनिंग विभाग में फैले कोरोना संक्रमण का असर अब कलेक्ट्रेट के दूसरे दफ्तरो में भी देखने को मिल रहा है। माईनिंग विभाग के ठीक बगल में संचालित डीएमएफ के दफ्तर में भी कोरोना संक्रमण ने दस्तक दे दी है। यहां डीएमएफ की परियोजना समन्वयक व ज्वांईट कलेक्टर सूर्य किरण तिवारी की रिपोर्ट भी पिछले दिनों कोरोना पाॅजिटिव आई है।

ऐसे में कोरबा कलेक्ट्रेट में एक ओर जहां कोरोना संक्रमण फैलने को खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। वही माईनिंग विभाग में अधिकांश स्टाफ के कोरोना पाॅजिटिव होने के साथ ही एक कर्मचारी की मौत की खबर से प्रशासनिक अमले में काफी दहशत है। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि कलेकट्रेट कार्यालय में संक्रमण के रोकथाम को लेकर कलेक्टर किरण कौशल कोई बड़ा फैसला ले सकती है। होली की छुट्टी के बाद कई दफ्तरों को बंद करने का आदेश देने के साथ ही बाहरी लोगों ले कलेक्ट्रेट कार्यालय में आने पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है।

Spread the love