comscore

कांग्रेस विधायक की कोरोना से मौत: 15 अप्रैल को हुए थे कोरोना पॉजिटिव, चल रहा था इलाज… पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर जताया शोक

भोपाल 3 मई 2021. पृथ्वीपुर से कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर का कोरोना से निधन हो गया है. दमोह उपचुनाव में प्रचार के दौरान वह संक्रमित हुए थे. तबीयत बिगड़ने पर उन्हें झांसी से एयरलिफ्ट कर भोपाल लाया गया था. यहां चिरायु हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा था. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट कर बृजेंद्र सिंह राठौर के निधन पर शोक जताया है.

जानकारी के मुताबिक, पृथ्वीपुर विधायक बृजेंद्र सिंह राठौर 15 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव हुए थे. दमोह उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने उन्हें अपना प्रभारी बनाया था. वे चुनाव के दौरान ही कोरोना संक्रमित हुए थे. इसके बाद वह घर में ही आइसोलेट रहे, लेकिन तबीयत बिगडऩे पर उन्हें झांसी के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. फेफड़ों में संक्रमण फैलने के बाद बृजेन्द्र सिंह राठौर को एयर एंबुलेंस से भोपाल चिरायु हॉस्पिटल शिफ्ट किया गया था. रविवार को वह कोरोना से जंग हार गए. बृजेन्द्र सिंह राठौर के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दुख व्यक्त किया है.

कुछ दिन पहले ही प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष मांडवी चौहान भी कोरोना का शिकार बनीं और भोपाल में दम तोड़ दिया. मांडवी भी लंबे समय तक दमोह में पार्टी प्रचार में गईं थीं. कांग्रेस की ही महिला विधायक कलावती भूरिया भी कुछ दिनों के लिये दमोह गईं थीं और कोरोना की चपेट में आईं और इंदौर के अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली. कांग्रेस के नेता मान रहे हैं कि ये जानलेवा चुनाव रहा.

पीसी शर्मा, विधायक और पूर्व मंत्री कहते हैं कि दमोह में इंदौर, जबलपुर और भोपाल से आने वाले पार्टी वर्करों ने कोरोना को तेज़ी से फैलाया. ऐसा नहीं है कि चुनाव के दौरान कांग्रेस के नेता ही कोरोना की चपेट में आए. बीजेपी के पूर्व जिलाध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव भी कोरोना के कारण जान गंवा बैठे. कांग्रेस के प्रत्याशी अजय टंडन भी चुनाव के दौरान ही कोराना के शिकार हो गये. बीजेपी सरकार के मंत्री भूपेद्र सिंह, मंत्री गोविंद सिहं राजपूत, विधायक प्रदीप लारिया विधायक शैलेन्द्र जैन और विधायक जीतू पटवारी भी कोरोना की चपेट में आये.

 

Spread the love