कॉलेज बिग ब्रेकिंग : UG, PG का नया कैलेंडर जारी….1 नवंबर से शुरू होगा नया सत्र, छुट्टियों में होगी कटौती, यूनिवर्सिटीज में कब एडमिशन-कब परीक्षा… याद रखें ये तारीख

नई दिल्ली 22 सितंबर 2020। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय (The Union Ministry of Education) ने मंगलवार को शैक्षणिक सत्र 2020-21 के लिए स्नातक (यूजी) और स्नातकोत्तर (पीजी) छात्रों के लिए संशोधित यूजीसी (UGC) दिशानिर्देशों को मंजूरी देते हुए नए शैक्षणिक कैलेंडर (Academic Calendar 2020-21) जारी कर दिया है. इस बावत केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) ने ट्विटर (Twitter) पर जानकारी दी है.

यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को निर्देश दिया है कि पढ़ाई को हुए नुकसान की भरपाई के लिए सप्ताह में छह दिन पढ़ाई होनी चाहिए। इसके अलावा इस वर्ष की सर्दियों की छुट्टियों और अगले वर्ष की गर्मियों की छुट्टियों में भी कटौती होनी चाहिए।

यहां देखें संशोधित एकेडमिक कैलेंडर

ugc approves academic calendar guideline

ugc approves academic calendar guideline
केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने भी इस बारे में ट्वीट कर सूचना दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘कोविड-19 महामारी की स्थिति के मद्देनजर आयोग ने कमिटी की रिपोर्ट को स्वीकार कर लिया है। सत्र 2020-21 में यूजी पीजी कोर्सेज फर्स्ट ईयर के एकेडमिक कैलेंडर पर यूजीसी गाइडलाइंस को मंजूरी दे दी गई है।’

नवंबर से कक्षाएं शुरू, 30 अक्टूबर तक एडमीशन

मंत्रालय ने जिस शैक्षणिक कैलेंडर को मंजूरी दी है उसके मुताबिक प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए कक्षाएं नवंबर से शुरू होंगी और प्रवेश प्रक्रिया 30 अक्टूबर तक जारी रहेगी. सभी उच्च शिक्षण संस्थानों को सलाह दी गई है कि वे सप्ताह में छह दिन पढ़ाने के लिए रखें ताकि जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई हो सके. मंत्रालय ने संस्थानों को अवकाश और छुट्टियों को कम करने की सलाह भी दी है.

बता दें कि यूजीसी ने पहली बार 29 अप्रैल को उच्च शिक्षा संस्थानों के लिए एक वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर जारी किया था, जिसमें यह निर्धारित किया था कि विश्वविद्यालय एक जुलाई से 15 जुलाई तक फाइनल ईयर या टर्मिनल सेमेस्टर एग्जाम आयोजित करेंगे और महीने के अंत में परिणाम घोषित करेंगे.

एडमीशन कैंसल तो पूरा रिफंड

साथ ही शिक्षा मंत्रालय ने मंगलवार (22 सितंबर) को यह भी घोषणा भी की थी कि प्रवेश रद्द करने पर फुल रिफंड किया जाएगा. शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक ‘लॉकडाउन के कारण माता-पिता द्वारा समाना की जा रही वित्तीय कठिनाई को देखते हुए 30 नवंबर 2020 तक की फीस का पूरा रिफंड किया जाएगा’.

ये वीडियो भी देखें…

Get real time updates directly on you device, subscribe now.