जनपद पंचायत भवन में आगजनी की जांच के लिए कलेक्टर ने टीम गठित की…..जिला पंचायत CEO. ने घटना स्थल का किया मुआयना…..7 दिन के भीतर रिपोर्ट तलब

धमतरी 3 जनवरी 2021।  जनपद पंचायत मगरलोड के भवन में शनिवार दो जनवरी को हुई आगजनी की घटना का स्थल निरीक्षण करने कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने जिला पंचायत के नवपदस्थ सीईओ मयंक चतुर्वेदी को निर्देशित किया। कलेक्टर के मार्गदर्शन में सीईओ चतुर्वेदी ने आज दोपहर जनपद पंचायत मगरलोड का मौका मुआयना किया तथा घटना की जांच के लिए बिन्दु निर्धारित किया।

तत्पश्चात् कलेक्टर ने दो अलग-अलग दल गठित कर बिन्दुवार जांच के लिए आदेश दिया। आदेश के अनुसार जनपद पंचायत मगरलोड के कार्यालय के शासकीय दस्तावेजों, अभिलेखों एवं परिसम्पत्तियों के नुकसान एवं आगजनी से हुई क्षति के संबंध में जांच के लिए तीन बिन्दु निर्धारित किए गए हैं। पहला, आग किन परिस्थितियों में लगी, दूसरा, किसकी जिम्मेदारी तय होगी तथा तीसरा विद्युत आॅडिट पिछली बार कब हुआ था।

आदेश के अनुसार पांच सदस्यीय जांच दल का अध्यक्ष मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  मयंक चतुर्वेदी को नियुक्त किया गया है। अन्य सदस्य के तौर पर प्रभारी उप संचालक पंचायत अविनाश मसराम, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत कुरूद सत्यनारायण वर्मा, फायर स्टेशन प्रभारी होमगाॅर्ड नरेन्द्र राव शिंदे तथा सहायक अभियंता छ.ग. राज्य विद्युत विद्युत वितरण कम्पनी मगरलोड अजय कुमार ठाकुर को शामिल किया गया है।

उक्त जांच दल को सात दिवस के भीतर जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के आदेश कलेक्टर ने दिया है…इसी प्रकार आगजनी से हुई क्षति के अंकेक्षण (आॅडिट) के लिए चार सदस्यीय दल गठित करने के लिए कलेक्टर ने अंकेक्षण दल का गठन किया है। चार सदस्यीय अंकेक्षण दल में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कुरूद योगिता देवांगन, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत धमतरी अमित दुबे, सहायक परियोजना अधिकारी मनरेगा  धरम सिंह तथा सहायक अभियंता छ.ग. राज्य विद्युत विद्युत वितरण कम्पनी मगरलोड  अजय कुमार ठाकुर सम्मिलित हैं। उक्त अंकेक्षण दल को भी सात दिनों के भीतर अंकेक्षण पूर्ण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का आदेश कलेक्टर ने दिया है….

Spread the love