कलेक्टर भारतीदासन ने की आमनागरिकों से अपील: कोरोना से बचने लॉकडाउन जरूरी: पालन सुनिश्चित करे

रायपुर 21सितंबर 20। कलेक्टर डॉ एस भारतीदासन ने रायपुर जिले के आम नागरिकों से अपील किया है कि राजधानी में कोरोना संक्रमण से बचाव में आप सभी अपनी जागरूकता एवं आत्मनियंत्रण के माध्यम से अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करें। जिले में बढ़ रहे संक्रमण की श्रृंखला को बाधित करने के उद्देश्य से वर्तमान में जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमण के प्रभावी रोकथाम एवं नियंत्रण के लिये सम्पूर्ण जिले में 21 सितम्बर की रात्रि 9 बजे से 28 सितम्बर के रात्रि 12 बजे तक कुल 7 दिनों के लिए लॉकडाउन किया गया है एवं धारा 144 लागू करते हुए रायपुर जिले के सम्पूर्ण क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है।

कलेक्टर ने कहा है कि इस बीमारी को बचाव के माध्यम से ही हराया जा सकता है , इसके लिये आवश्यक है कि घर से बाहर निकलने पर मास्क पहने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, हाथ बार-बार धोये, आयुर्वेदिक उपायों को अमल में लाते हुये स्वच्छता का ध्यान रखें।

उन्होंने कहा है कि सही समय पर मरीज की पहचान होने पर उसे समुचित उपचार से कोरोना की गम्भीरता से दूर रखा जा रहा है और देरी से पहचान होने में लोगों को जान का खतरा हो रहा है। इसलिए आमनागरिकों से आग्रह है कि किसी प्रकार का लक्षण आते ही तुरंत जांच कराएं।
कलेक्टर ने कहा है कि
लाॅकडाउन कभी स्थायी हल नहीं हो सकता है अतः इस दौरान आदेशों एवं प्रतिबंधो के कारण जो नियंत्रण स्थापित किया जायेगा उसको दैनिक जीवन का हिस्सा आप सभी को आत्मनियंत्रण के माध्यम से बनाना होगा तभी हम इस महामारी पर विजय प्राप्त कर सकेंगें। इसलिये अनावश्यक घरों से न निकलें क्योंकि यदि आप कहीं बाहर संक्रमित होकर आते हैं तो सम्भव हैं कि आपकी प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होने के कारण यह आपको उतना नुकसान नहीं करेगा जितना आपके घर के बुजुर्गों, बच्चों एवं असाध्य रोगों से पीड़ित परिवारजनों को कर सकता है आपकी एक असावधानी आपके हँसते खेलते परिवार के लिए जानलेवा हो सकती है इसलिए अपने परिवार,समाज एवं सम्पूर्ण मानवता के हित में वह सभी कोरोना बचाव के उपायों को अपनी जीवनशैली का हिस्सा बनाये जो आवश्यक है।
उन्होंने आमनागरिकों से लॉकडाउन का पालन करने की अपील करते हुए कहा है कि शासन, प्रशासन एवं समस्त प्रशासनिक अमला आप सभी की सेवा एवं सुरक्षा हेतु कटिबद्ध है और हर स्तर पर आपके साथ है। आप भी प्रशासनिक कर्मियों, स्वास्थ्य कर्मियों एवं स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ सद्भावनापूर्ण व्यवहार करते हुये सहयोग करें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.