comscore

ढाई साल का CM: भूपेश के समर्थन में खुलकर आए बृहस्पति, बोले..नायक फ़िल्म के अनिल कपूर जैसे काम कर रहे, ढाई साल नहीं 25 साल रहेंगे CM…

0 फर्जी खबर वायरल करने वालों के खिलाफ की अपराध दर्ज करने की मांग

अंबिकापुर,15 जून 2021। ढाई साल की किस्सागोई और अब तक केवल बतरस मानी जा रही प्रदेश के मुख्यमंत्री को बदले जाने की बात पर भले सुबह ही चैनलों की ओर से स्पष्टीकरण आ गया हो और इन चैनलों के स्पष्टीकरण के हवाले से प्रदेश कांग्रेस ने इसे फेक ( फ़र्ज़ी ) बताया हो, इस मसले पर तेज तर्रार विधायक और कद्दावर आदिवासी नेता बृहस्पति सिंह को ग़ुस्सा आ गया है। रामानुगंज बलरामपुर विधायक बृहस्पति सिंह ने ऐसे समाचार प्रसारित करने वालों पर FIR दर्ज करने की माँग करते हुए मीडिया को नसीहत दी है। हालाँकि इस ‘कड़ी नसीहत’ के ठीक पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा अंबिकापुर में वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के दौरान विभिन्न विकास योजनाओं के भूमि पूजन और लोकार्पण अवसर पर संबोधित करते हुए विधायक बृहस्पति सिंह ने अपने संबोधन में ढाई साल वाली बात को सिरे से ख़ारिज करते हुए कहा
“मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पच्चीस सालों के मुख्यमंत्री रहेंगे”
कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग से जूड़ कर यह बात कहने के कुछ घंटों बाद अंबिकापुर में एक पत्रकार वार्ता की सूचना आई जिसे विधायक बृहस्पति सिंह ने संबोधित किया।
विधायक बृहस्पति सिंह ने इस पत्रकार वार्ता में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की तुलना नायक फ़िल्म के अनिल कपूर से करते हुए उनकी तारीफ़ों के पुल बांध दिए। राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं का ज़िक्र करते हुए विधायक बृहस्पति सिंह ने सवाल किया
“कोई राज्य ऐसा सफल है क्या जैसा माननीय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के नेतृत्व में छत्तीसगढ है.. गोबर ख़रीदी केवल प्रदेश में होती है.. धन का कहीं संकट नहीं है.. सभी क्षेत्रों वर्गों में विकास है”
विधायक बृहस्पति सिंह ने सुबह से वायरल हुए व्हाट्सएप मैसेजों का ज़िक्र करते हुए मीडिया को कड़ी नसीहत देते हुए चिंता जतायी कि ऐसी खबरों से विश्वसनीयता संकट में पड़ सकती है।
विधायक बृहस्पति सिंह ने पत्रकारों से दो टूक कहा –
“ जिन्होंने भी फ़र्ज़ी खबर वायरल की है उनके ख़िलाफ़ FIR होनी चाहिए”
पत्रकार वार्ता की सूचना ज़िला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री राजू अग्रवाल की ओर से मीडियाकर्मियों को दी गई थी। राजू अग्रवाल खाद्य मंत्री अमरजीत भगत के कट्टर समर्थक के रुप में जाने जाते हैं।

Spread the love