मुख्यमंत्री सुपोषण योजना में सूखा राशन बांटने सीएम ने दिया निर्देश, सिकरेट्री सिद्धार्थ परदेशी ने कलेक्टरों को जारी किया लेटर

NPG.NEWS
रायपुर, 31 मार्च 2020। कोरोना संक्रमण के दौरान मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के तहत बच्चों, गर्भवती माताओं को पौष्टिक गर्म भोजन नहीं मिल पा रहा। लिहाजा, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अफसरों को गर्म भोजन की जगह करीब तीन लाख बच्चों, गर्भवती और शिशवती महिलाओं को गरम भोजन की बजाए सूखा राशन प्रदान करने के निर्देश दिए हैं।
मुख्यमंत्री के निर्देश पर महिला बाल विकास विभाग के सिकरेट्री सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने सभी कलेक्टरों को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं।
परदेशी ने कलेक्टरों को लिखा है कि लॉकाडाउन के चलते गर्म भोजन का वितरण बंद हो गया है। इससे बच्चों और गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य पर विपरित प्रभाव पड़ेगा। इसलिए, सूखा राशन जैसे, चावल, गेहूं, दाल या लोकल आधार पर पौष्टिक सामग्री का पैकेट बनाकर चिन्हित हितग्राहियों को दिया जाए।

Spread the love