CM भूपेश का तंज – “रमन सिंह खाली बैठे हैं, दिल्ली में कोई पूछता नहीं…न्याय योजना अगर बोनस है तो भाजपा नेताओं को नहीं लेना चाहिये”…… नेता प्रतिपक्ष ने दिया मुख्यमंत्री को जवाब…

रायपुर 24 जनवरी 2021। छत्तीसगढ़ में धान पर घमासाना खत्म नहीं हो रहा है।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह इस मामले पर लगातार आमने-सामने हैं। दो दिन पहले छत्तीसगढ़ में बीजेपी के किसान आंदोलन में पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के “गेटअप” पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तंज कसा है। मुख्यमंत्री ने रमन सिंह के सर पर गमछा बांधने पर चुटकी लेते हुए कहा कि वो नकली किसान हैं किसान बनने का दिखावा करते हैं। भूपेश बघेल ने कहा कि रमन सिंह को अगर किसान बनना है तो कमर में गमछा बांधना चाहिये।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज रायगढ़ के दौरे पर रवाना हुए हैं। उन्होंने रवानगी के पूर्व मीडिया से बातचीत में रमन सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि …

“रमन सिंह को आजकल कुछ काम नहीं है, सिर्फ बैठकर वो ट्वीट करते रहते हैं, दिल्ली में उन्हें कोई पूछता नहीं है, पांच राज्यों में चुनाव होना हैं, कहीं भी पार्टी ने उन्हें कोई जिम्मेदारी नहीं दी है”

वहीं धान बेचने वाले बीजेपी नेताओं पर तंज कसते हुए भूपेश बघेल ने कहा कि …

“केंद्र सरकार राज्य की राजीव गांधी न्याय योजना को बोनस मानती है, ऐसे में अगर न्याय योजना की राशि बोनस है तो फिर बीजेपी नेताओं को बोनस नहीं लेना चाहिये”

वहीं नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि

“रमन सरकार के वक्त भी सभी ने धान बेचा था, उस वक्त तो किसी ने कांग्रेस नेताओं से नहीं कहा था कि वो बोनस ना लें, कांग्रेस ये ना बताये कि कौन किसान हैं और कौन नहीं, किसान को मालूम है कि सर पर और कमर पर गमछा कब बांधा जाना है,  धान बेचने वाले बीजेपी नेताओं के नाम को सार्वजनिक करना ओझी राजनीति है। जिन्होंने भी पंजीयन कराया है, वो किसान हैं, ऐसे में सरकार को अपना वादा पूरा करना चाहिये”

Spread the love