बोले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल “नया राजधानी बना दिए लेकिन शहर नहीं बसा..शहर नहीं बसा तो खंडहर में तब्दील हो जाएगा.. ऐसा ना हो इसलिए हम सब यहाँ रहेंगे”

रायपुर,29 अगस्त 2020। नई राजधानी के रुप में विकसित करने के फेर में नया रायपुर इलाक़ा ऐसी जगह है जहां मकान तो हैं पर आबादी का पता नहीं है। इस मसले को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अक्सर चिंता जताते रहते हैं। नई विधानसभा के शिलान्यास अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संबोधन में एक बार फिर इस विषय ने जगह बनाई।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा
“नई राजधानी तो बना दिए लेकिन शहर नहीं बसा.. यदि यह शहर नहीं बसा तो खंडहर में तब्दील हो जाएगा..इसलिए यहाँ बसाने की क़वायद है..राजभवन, मंत्रीमंडल का निवास पर काम तेज़ी से चल रहा है..मुख्य सचिव और उनके सहयोगियों का निवास करने लगे हैं..हम सब यहाँ बसाने की क़वायद में है.. यदि हम सब रहेंगे तो मार्केट भी बनेगा.. अस्पताल भी होगा .. असुविधा नहीं होगी”

नवीन विधानसभा के शिलान्यास अवसर पर संबोधित करते हुए CM भूपेश बघेल ने कहा
“29 अगस्त याने आज का दिन इतिहास में बहुत सी घटनाओं को जोड़े हुए है,आज ही संविधान समिति के प्रारुप समिति का गठन हुआ था..और आज ही हम शिलान्यास कर रहे हैं, हमारी कोशिश रहेगी कि नया भवन जल्द तैयार हो जाए”

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस मौक़े पर याद किया कि एकीकृत मध्यप्रदेश में 84 में तत्कालीन मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह ने नए विधानसभा बनाए जाने की घोषणा की थी जिसे बनने में तेरह साल लगे थे।

Spread the love