मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दी शहर को कई सौगात,सर्वसुविधायुक्त सिटी कोतवाली और ‘गुरूजी चौक‘ का किया गया लोकार्पण..

रायपुर 24 नवंबर 2020। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा नागरिक सुविधाओं के उन्नयन के लिए पूर्ण किए गए 6 योजनाओं का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जन सुविधाओं व सेवाओं के विस्तार के लिए किए जा रहे विकास कार्यों के लिए सभी की सराहना की। इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री रविन्द्र चौबे, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, नगरीय प्रशासन मंत्री डाॅ. शिव कुमार डहरिया, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, सांसद छाया वर्मा, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, छ.ग. गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, राज्य के मुख्य सचिव आर.पी. मंडल, महापौर एजाज़ ढेबर, नगरीय प्रशासन विभाग के सचिव अलरमेल मंगई डी, पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा, कलेक्टर डाॅ. एस. भारतीदासन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव, नगर निगम के कमिश्नर सौरभ कुमार, नगर निवेश संचालक जितेन्द्र शुक्ला, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. गौरव कुमार सिंह, रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अपर प्रबंध संचालक प्रभात मलिक सहित जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिकगण सम्मिलित थे।

मुख्यमंत्री बघेल ने आज देवेन्द्र नगर सड़क विस्तारीकरण एवं सौंदर्यीकरण तथा दुकान निर्माण कार्य का लोकार्पण किया। लगभग 3 करोड़ 28 लाख रूपये की लागत से नगर निगम व रायपुर स्मार्ट सिटी लि. ने मिलकर रिक्त शासकीय भू-खंड का सदुपयोग करते हुए गुरूजी चौक से एक्सप्रेस वे तक की दूरी के मार्ग के विस्तारीकरण एवं सौंदर्यीकरण कार्य के साथ ही 47 दुकानों का निर्माण किया हैं। मुख्यमंत्री बघेल ने व्यवसायियों को इन दुकानों की चाबी भी आज सौंपी। लोक निर्माण विभाग ने यहां पर बी.टी. रोड का निर्माण किया है। भविष्य में एक्सप्रेस वे प्रारंभ होने से सघन आवागमन के दबाव को व्यवस्थित करने में सड़क चौड़ीकरण का यह कार्य अत्यधिक उपयोगी होगा।

मुख्यमंत्री बघेल ने रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा ऑक्सीजोन मार्ग पर 2.52 करोड़ रूपये की लागत से रायपुर के पहले स्मार्ट सड़क का लोकार्पण किया। इस सड़क में अंडरग्राउंड केबलिंग की व्यवस्था है। इस स्मार्ट रोड में प्रकाश व्यवस्था हेतु सोलर पैनल लगाए गए है। भूमिगत जल निकास व्यवस्था के साथ ही 220 मीटर के इस सड़क में साइनेज व रोड मार्किंग कर इसे आकर्षक स्वरूप दिया गया है। मुख्यमंत्री बघेल कलेक्टोरेट परिसर भी गए, जहां रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा आम नागरिकों की सुविधा हेतु जन सुविधाओं का उन्नयन कर 75 लाख रू. की लागत से कलेक्टोरेट परिसर में आगंतुकों की बैठक व्यवस्था के साथ लैंडस्केपिंग, लाइटिंग व पेवर लगाकर आकर्षक उद्यान विकसित किया गया है।

मुख्यमंत्री बघेल ऐतिहासिक जवाहर बाजार का लोकार्पण कर स्थानीय व्यवसायियों से भी मुलाकात की। रायपुर स्मार्ट सिटी लिमि. द्वारा कायाकल्प कर लगभग 20 करोड़ 70 लाख रूपये की लागत से 2 बेसमेंट पार्किंग सहित भू-तल पर 75 नग एवं प्रथम तल पर 72 दुकानें बनायी गई हैं, इसके अलावा द्वितीय एवं तृतीय तल में लगभग 25 हजार वर्गफीट में 16 कार्यालय का निर्माण भी किया गया है। इस योजना के तहत पार्किंग हेतु लोवर बेसमेंट के साथ ही इस परिसर के जीर्णोद्धार में ऐतिहासिक मुख्य द्वार को यथावत रखा गया है। इस परिसर के जीर्णोद्धार उपरांत दशकों से किराएदार के रूप में व्यवसाय कर रहे 67 व्यवसायियों को मालिकाना हक प्रदान करने का ऐतिहासिक कार्य भी इस वर्ष छ.ग. शासन द्वारा किया गया है।

मुख्यमंत्री बघेल ने आज रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा कोरोना काल के दौरान 10 माह की अल्पावधि में निर्मित सिटी कोतवाली थाना भवन का भी लोकार्पण किया। शहर के हृदय स्थल व सघन क्षेत्र में बने पुराने सिटी कोतवाली थाने को सर्वसुविधायुक्त थाना के रूप में निर्मित किया है। इस भवन निर्माण से मुख्य व्यापारिक क्षेत्र में यातायात व्यवस्थित हो सकेगा, वहीं हाईटेक भवन से सिटी कोतवाली थाने का सुव्यवस्थित संचालन होगा। लगभग 6 करोड़ रुपये की लागत से करीब 14 हजार वर्ग फुट के क्षेत्र में कुल 30 हजार वर्ग फुट में भूतल के साथ 6 मंजिल में यह भवन निर्मित है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ऐतिहासिक बूढ़ा तालाब भी गए जहां उन्होंने म्यूजिकल फाउंटेन के प्रथम चरण का शुभारंभ बटन दबाकर किया। यह फाउंटेन देश में क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा फाउंटेन है। इस फाउंटेन के शुरू होने से तालाब की नैसर्गिक भव्यता को आकर्षक स्वरूप मिलेगा। मुख्यमंत्री बघेल ने बूढ़ा तालाब परिसर में इस म्यूजिकल फाउंटेन का आनंद लिया। इस दौरान स्थानीय जनप्रतिनिधि, विभिन्न विभागों के अधिकारी-कर्मचारी व आम नागरिक भी उपस्थित थे।

देवेन्द्र नगर जाने के मुख्य मार्ग में नवनिर्मित गुरुजी चौक और सड़क चौड़ीकरण कार्य का लोकार्पण किया। उन्होंने पैदल घुमकर चौक और नवनिर्मित दुकानों का अवलोकन किया और यहां के सौन्दर्यीकरण कार्य की तारीफ की। इन कार्यों की लागत 3 करोड़ 28 लाख रूपए है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सड़क चौड़ीकरण से प्रभावित सभी 47 दुकानदारों को नवनिर्मित दुकानों की चाबी सौंपी और उन्हें हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

उल्लेखनीय है कि रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड नगर निगम और लोक निर्माण विभाग द्वारा रायपुर शहर में यातायात को सुगम बनाने के लिए देवेन्द्र नगर चौक से एक्सप्रेस-वे तक दूरी के मार्ग का चौड़ीकरण और उन्नयन कार्य किया गया है। लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़क निर्माण (बी.टी.रोड) किया गया है। नगर निगम और रायपुर स्मार्ट सिटी द्वारा मिलकर सड़क चौड़ीकरण से प्रभावित होने वाले दुकानदारों के लिए 47 दुकानों का निर्माण कराया गया है। इसके अलावा चौक सौंदर्यीकरण, वृक्षारोपण, विद्युतीकरण, नाली व सड़क निर्माण जैसे कार्य भी किए गए हैं। सड़क चौड़ीकरण से यहां की बढ़ती ट्रैफिक दबाव से भी निजात मिलेगी।

इस अवसर पर गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, विधायकगण कुलदीप जुनेजा, सत्यनारायण शर्मा, विकास उपाध्याय, नगर निगम रायपुर के महापौर एजाज ढेबर, सभापति प्रमोद दुबे सहित अनेक जनप्रतिनिधि एवं नगर निगम के पार्षद, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, रायपुर कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन, नगर निगम कमिश्नर सौरभ कुमार भी उपस्थित थे।

Spread the love