2024 ओलंपिक में तीरंदाजी के प्रशिक्षण के लिए छत्तीसगढ़ का चयन, खिलाड़ियों को विशेष प्रशिक्षण सहित मिलेंगी विभिन्न सुविधाएं

रायपुर 12 मार्च 2020। वर्ष 2024 ओलंपिक खेलों में भारत की पदक जीतने की संभावनाओं को बढ़ाने के उद्देश्य से भारत सरकार युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय की पहल ‘वन स्टेट-वन गेम‘ के तहत् छत्तीसगढ़ का तीरंदाजी खेल के लिए चयन किया गया है। ‘वन स्टेट-वन गेम‘ के अंतर्गत राज्यों को चयनित खेल में बेहतर सुविधाएं, बेहरत प्रशिक्षण और खिलाड़ियों को विभिन्न खेल र्स्पाधाओं के माध्यम से एक्सपोजर प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा खिलाड़ियों को खेल तकनीक और खेल विज्ञान के संबंध में सहायता प्रदान की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार द्वारा खेलों को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण का गठन किया गया है। खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री उमेश पटेल ने बताया कि इसके अंतर्गत विभिन्न खेल अकादमियां स्थापित की जा रही है। प्राधिकरण राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों में सर्वसुविधायुक्त अत्याधुनिक खेल अकादमियों का संचालन करेगा। इससे राज्य में स्थापित उद्योगों का भी सहयोग लिया जाएगा।

खेल एवं युवा कल्याण विभाग की संचालक श्वेता सिन्हा ने बताया है कि भारत सरकार ने वर्ष 2024 और 2028 के ओलंपिक खेलों में पदक जीतने की संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए तीरंदाजी सहित 14 खेलों का चयन किया है। केन्द्र सरकार ने राज्य सरकारों से चर्चा कर हर राज्य के लिए एक-एक खेल का चयन किया है। चयनित खेल में राज्य को विशेष दक्षता प्राप्त है। इन राज्यों में चयनित खेलों में युवा प्रतिभाओं को बेहतर प्रशिक्षण के साथ सभी जरूरी सुविधाएं मुहैया कराकर खिलाड़ियों को ओलंपिक के लिए तैयार किया जाएगा। इस तारतम्य में ‘वन स्टेट-वन गेम‘ के तहत् छत्तीसगढ़ का तीरंदाजी खेल के लिए चयन किया गया है। छत्तीसगढ़ के आदिवासियों की जीवनशैली में तीरंदाजी का खेल रचा-बसा है। आदिवासी अंचलों के युवाओं ने अनेक राष्ट्रीय स्पर्धाओं में पदक जीते हैं।

Spread the love