आत्महत्याओं के मामले में छ.ग. देश में 9 वें नंबर पर…. लोकसभा में भूपेश सरकार को घेरा सांसद साव ने

बिलासपुर 21 सितम्बर 2020। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के ताजा रिपोर्ट के अनुसार छत्तीसगढ़ में आत्महत्या की घटनाओं में तेज़ी से वृद्धि हो रही है। इस मामले को लेकर सांसद अरुण साव ने रविवार को लोकसभा में छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने राज्यपाल से इस संबंध में रिपोर्ट मंगवाने की भी मांग की।

लोकसभा में मानसून सत्र की कार्रवाई रविवार को रात्रि 12.30 बजे तक चली। इस दौरान शून्यकाल में सांसद साव ने नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो की ताजा रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में बड़े-बड़े वायदे कर भारी बहुमत से कांग्रेस ने सरकार बनाई है, परंतु हमेशा की तरह कांग्रेस सरकार वादाखिलाफी कर रही है। इसका नतीजा यह हो रहा है कि राज्य के युवाओं, बेरोजगारों, मजदूरों, महिलाओं, शासकीय कर्मचारियों और पुलिस कर्मियों में घोर निराशा घर कर गया है। इसका प्रमाण इससे मिलता है कि नेशनल क्राइम रिकार्ड ब्यूरो की रिपोर्ट के अनुसार छत्तीसगढ़ में 233 किसानों, 329 बेरोजगारों, 1679 दैनिक मजदूरों सहित कुल 7 हजार 629 लोगों ने आत्महत्या की है। आत्महत्या की घटनाओं के मामले में छत्तीसगढ़ का देश में नौवां स्थान है। वर्तमान् में राज्य में प्रशासनिक अराजकता का वातावरण है। लोग परेशान हैं। श्री साव ने केन्द्र सरकार से इस मामले की राज्यपाल से रिपोर्ट मंगवाने की मांग की। साथ ही कहा कि केन्द्र सरकार इस संबंध में राज्य सरकार को आवश्यक निर्देश जारी करे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.