npg

छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन करेगा नई फिल्म नीति पर काम… एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का जताया आभार 

रायपुर 17 सितम्बर 2021. छत्तीसगढ़ सरकार की नई फिल्म नीति और छत्तीसगढ़ में फिल्मों को प्रोत्साहन के लिए सराहनीय कदम के लिए छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार जताया है। संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन के अध्यक्ष दिलीप षडंगी, संरक्षक पद्म विभूषण प्रख्यात पंडवानी गायिका तीजन बाई […]

Spread the love

छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन करेगा नई फिल्म नीति पर काम… एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का जताया आभार 
X

रायपुर 17 सितम्बर 2021. छत्तीसगढ़ सरकार की नई फिल्म नीति और छत्तीसगढ़ में फिल्मों को प्रोत्साहन के लिए सराहनीय कदम के लिए छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार जताया है। संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन के अध्यक्ष दिलीप षडंगी, संरक्षक पद्म विभूषण प्रख्यात पंडवानी गायिका तीजन बाई सहित एसोसिएशन के चेयरमैन शैलेष वर्मा होमन देशमुख, छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन के प्रवक्ता गजेंद्र रथ वर्मा, ज्योतिरादित्य वर्मा ने मुख्यमंत्री निवास में छत्तीसगढ़ के मुखिया भूपेश बघेल से मुलाकात की। नई फिल्म नीति के लिए आभार जताया छत्तीसगढ़ जिस तरह से कला संस्कृति और परंपराओं के लिए देशभर में जाना और माना जाता है।

वैसे ही इस छोटे से प्रदेश ने बहुत कम समय में प्रादेशिक फिल्मों ने देश भर में अपनी पहचान बनाई है जिससे सरकार भी प्रभावित हुई और फिल्मों के पोषण के लिए नई नीति बनाई छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार लगातार प्रदेश की परंपराओं कलाकारों फिल्मकारों के लिए नीतियां बना रही है, जिससे फिल्म जगत में उत्साह का माहौल है। फिल्म से जुड़े सभी लोग नई फिल्म नीति की सराहना कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ प्रदेश प्राकृतिक सौंदर्य से युक्त है। हमारे यहां फिल्म शूटिंग के लिए प्राकृतिक धरोहर है नदी पर्वत जंगल सभी तरह की सुविधाओं से प्रकृति ने हमें नवाजा है। छत्तीसगढ़ में फिल्म निर्माण 1965 से ही शुरू हो गया। छत्तीसगढ़ के पहले फिल्म कही देबे संदेश के साथ ही छत्तीसगढ़ का कला जगत वैश्विक हो चुका था, लेकिन राज्य निर्माण के साथ मोर छईया भुइयां जैसी रंगीन फिल्म ने कला जगत को एक नया आयाम और पहचान दिलाई।

आज फिल्में डिजिटल माध्यम से बन रही है ना केवल फिल्में बल्कि छत्तीसगढ़ में वेब सीरीज हिंदी फिल्में भोजपुरी फिल्मों की शूटिंग बहुदा होते रहती है। ऐसे में फिल्म नीति का निर्माण छत्तीसगढ़ के कलाकारों को रोजगार के अवसर देने का माध्यम बनेगा। इन्हीं सारी बातों को लेकर छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन के सदस्यों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मिलकर उनके पहल के लिए आभार जताया। साथ ही छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन को अधिकृत रूप से फिल्मों के विकास के लिए काम करने के लिए अनुमति मांगी। बता दे छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन अब प्रदेश में फिल्म टाइटल के रजिस्ट्रेशन सहित फिल्म से जुड़े सभी लोगों के पंजीयन उनके अधिकारों की रक्षा सहित फिल्म निर्माण के सभी पहलुओं पर गंभीरता से काम करेगी और ज्यादा से ज्यादा छत्तीसगढ़ के कलाकारों को मंच देने उनके अधिकारों की रक्षा करने और छत्तीसगढ़ में अधिक से अधिक फिल्म निर्माण के लिए काम करेगी।

संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने छत्तीसगढ़ फ़िल्म एसोसिएशन को बधाई देते हुए विश्वास जताया कि आने वाला कल छत्तीसगढ़ी फिल्मों के लिए सुनहरा होगा। वहीँ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ फ़िल्म एसोसिएशन के 12 सूत्री मांगों पर विचार करते हुए उचित कार्यवाही की बात कही और छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन के सभी सदस्यों को बधाई देते हुए कहा जिस टीम में छत्तीसगढ़ की गौरव तीजनबाई है। वह जरूर छत्तीसगढ़ महतारी के आशीर्वाद से आगे बढ़ेगा। इस भेंट में मुख्यमंत्री ने सहृदयता दिखाते हुए पंडवानी गायिका और छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन की संरक्षक तीजन बाई के कलाकारों के लिए 50-50 हजार का अनुदान स्वीकृत कर कोरोना काल में परेशान कलाकारों को संबल देने का काम किया, जिसके लिए छत्तीसगढ़ फिल्म एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार जताया।

Next Story