संकरे जर्जर भवन में क़ैद किया मवेशियों को.. पचास गायों की मौत.. पचास से उपर गाय की हालत गंभीर.. समूचा प्रशासन मौक़े पर

बिलासपुर,25 जुलाई 2020। ग्राम पंचायत की लापरवाही और बग़ैर दूरंदेशी के किए गए फ़ैसले ने पचास गौ वंश को शव में तब्दील कर दिया जबकि क़रीब पचास गायों की हालत गंभीर बनी हुई है। क़रीब पंद्रह फ़ीट के एक कमरे में जो कि पुराने पंचायत भवन का कमरा था वहाँ सौ से उपर मवेशियों को रखा गया था। सुबह तक दम घूँटने से पचास गायों की मौत हो गई।
ज़िले के तखतपुर ब्लॉक के मेड़पारा पंचायत से आई खबर से समूचे महकमे में हड़कंप मच गया। मेड़पारा पंचायत के पुराने पंचायत भवन में सौ से अधिक मवेशियों को रख दिया गया जिससे पचास मवेशियों की मौत हो गई।
कलेक्टर सारांश मित्तर ने NPG से कहा

“बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है, और हम पता लगा रहे हैं कि ऐसी क्या परिस्थिति निर्मित हुई कि मवेशियों को इतने छोटे से कमरे में रख दिया गया, गंभीर प्रत्येक गोवंश को स्वास्थ्य लाभ देने पशु चिकित्सकों की पूरी टीम मौजुद है, साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों का दल भी। हम गौ वंश मालिकों को क्षतिपूर्ति भी दे रहे हैं। यह अक्षम्य है दोषियों को नहीं छोड़ेंगे”

खबरें हैं कि कल अचानक गौ वंश को एक जगह रोकने रखने का फ़ैसला किया गया। लेकिन इसके लिए जो जगह निर्धारित की गई वह चयन बेहद ग़लत साबित हुआ, और मवेशियों की दम घूँटने से मौत हो गई।

Spread the love