npg
ब्यूरोक्रेट्स

मुख्यमंत्री के जाने के बाद भी सरगुजा कलेक्टर और जिला पंचायत सीईओ का गौठान निरीक्षण का दौर जारी, सुखरी और रनपुरकला गौठान का किया निरीक्षण... दिए जरूरी दिशा निर्देश

मुख्यमंत्री के जाने के बाद भी सरगुजा कलेक्टर और जिला पंचायत सीईओ का गौठान निरीक्षण का दौर जारी, सुखरी और रनपुरकला गौठान का किया निरीक्षण... दिए जरूरी दिशा निर्देश
X

अम्बिकापुर 12 मई 2022। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दो दिवसीय दौरे ने सरगुजा जिला प्रशासन में दोगुना जोश भर दिया है यही कारण है कि मुख्यमंत्री के दौरे के बाद भी सरगुजा कलेक्टर संजीव कुमार झा एवं जिला पंचायत सीईओ विनय कुमार लंगेह का लगातार गौठान निरीक्षण का दौर अभी भी जारी है आज कलेक्टर संजीव कुमार झा एवं जिला पंचायत सीईओ विनय कुमार लंगेह ने सुखरी और रनपुरकला गौठानो का निरीक्षण किया। उन्होंने गोठान में संचालित विभिन्न गतिविधियों का अवलोकन किया और समूह की महिलाओं की आय बढ़ाने के लिए गोठान में बाड़ी विकास को दैनिक आय का जरिया बनाने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने कहा कि गोठान में वृहत एवं योजनाबद्ध तरीके से बाड़ी विकास का कार्य करें। बाड़ी में ज्यादा आय देने वाली सब्जी की खेती करें। गौठान से प्रतिदिन सब्जी का उत्पादन हो जिससे महिलाओं को हर दिन आय प्राप्त हो सके।उन्होंने सुखरी गौठान में कृषक स्व सहायता समूह की महिलाओं से बातचीत की महिलाओं ने बताया कि उनके द्वारा 581.56 क्विंटल गोबर खरीदी की गई है साथ ही 185.50 क्विंटल वर्मी कंपोस्ट खाद तैयार किया गया है जिससे उनके स्वयं सहायता समूह को 77822 रुपये की आमदनी हुई है वहीं रनपुरकला गौठान में दो महिला स्वयं सहायता समूह कार्यरत है जिसमें एक गौ माता स्वयं सहायता समूह और दूसरी तार स्वयं सहायता समूह की कुल 20 महिलाएं है जिनके द्वारा 1450.51 क्विंटल गोबर खरीदी की गई है साथ ही 1080.60 क्विंटल वर्मी कंपोस्ट का निर्माण किया गया है जिससे स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को 234043 रुपए की आमदनी हुई है, कलेक्टर ने गोठान में मशरूम उत्पादन, मुर्गीपालन, लेयर बर्ड ए बटेर पालन के लिए छायादार स्थान पर ले आउट बनाने के निर्देश दिये कलेक्टर ने उद्यान विभाग के अधिकारियो निर्देशित किया कि गोठान के चारो ओर नींबू, करौंदा, और बाँस के पौधे लगवाएं। बाड़ी विकास के तहत अन्य सब्जियों के साथ प्याज, लहसून की खेती करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने गोठान प्रबंधन समिति के अध्यक्ष एवं सरपंच को गांव के मवेशियो को गोठान में लाने तथा गोबर का विक्रय करने के लिए पशु पालकों को प्रोत्साहित करने कहा।

निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत सीईओ विनय कुमार लंगेह, जनपद सीईओ सुरेश्वर तिवारी सहित विभिन्न विभाग के अधिकारी कर्मचारी और समूह की महिलायें उपस्थित थे।

Next Story