npg
ब्यूरोक्रेट्स

मानव अधिकार आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष गिरिधारी नायक ने जेल की रसोई, बैरक की व्यवस्था को बारीकी से देखा

मानव अधिकार आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष गिरिधारी नायक ने जेल की रसोई, बैरक की व्यवस्था को बारीकी से देखा
X

रायपुर, 22 नवम्बर 2021। छत्तीसगढ़ मानव अधिकार आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष श्री गिरिधारी नायक ने आज यहाँ सर्किट हाउस महासमुंद में प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने महासमुंद से सम्बंधित मानव अधिकार के पंजीकृत प्रकरणों पर चर्चा की। अध्यक्ष श्री गिरिधारी नायक ने नेशनल हुमेन राईट कमीशन (एन.एच.आर.सी.) तथा स्टेट ह्यूमन राइट कमीशन की मानवाधिकार संबंधी गाइड लाईन के पालन के संबंध में भी चर्चा की। उन्होंने कोविड के दौरान अच्छा कार्य के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों की सराहना की एवं कोविड गाइड लाइन का पालन करने हेतु निर्देशित किया। कोविड के दौरान अनाथ हुए बच्चों को शासन की योजनाओं का लाभ नियमानुसार प्राप्त हो इस हेतु भी चर्चा की। स्वास्थ्य विभाग में कोविड से संबंधित प्रशिक्षण की भी जानकारी ली। पोस्ट मैट्रिक छात्रावास की सुरक्षा व्यवस्था आदि की जानकारी ली। बैठक में कलेक्टर श्री डोमन सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री दिव्यांग पटेल, छत्तीसगढ़ मानवाधिकार के संयुक्त सचिव श्रीमती मीनाक्षी, उप सचिव श्रीमती ज्योति, संयुक्त संचालक श्री मनीष मिश्रा सहित अपर कलेक्टर डॉ. नेहा कपूर, एसडीएम श्री भागवत जायसवाल एवं जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।

छत्तीसगढ़ मानव अधिकार आयोग के अध्यक्ष श्री गिरिधारी नायक ने बैठक के बाद जिला अस्पताल, जेल और स्कूल, सिटी कोतवाली का निरीक्षण किया। जेल में कैदियों के हेतु तैयार भोजन, रसोई घर एवं बंदियों के बैरकों का निरीक्षण किया और कोविड टीकाकरण की जानकारी ली। जेल के रसोई (किचन) में साफ-सफाई उचित पाई गयी। बंदियों के लिये तैयार नाश्ते एवं भोजन को जेल मैनुअल के अनुसार दिये जाने हेतु निर्देशित किया गया है। बंदियों को रखे गये बैरकों के निरीक्षण किये जाने पर कोरोना वायरस से बचाव के निर्देश दिए। बंदियों के पास मास्क होना पाया गया। जेल में बंदियो से मिलने आने वाले आगंतुकों, परिजनों को मास्क अनिवार्य रूप से लगाने कहा।

जेलर ने बताया कि कोरोना पॉज़िटिव पाए बंदियो को अलग से बैरक में क्वारंटाइन रखा जाता है। कार्यवाहक अध्यक्ष द्वारा बंदियों से बातचीत के दौरान बताया कि जेल में खाने की गुणवत्ता ठीक है तथा समय पर भोजन मिल जाता है। बैरकों में बंदियों के लिये पर्याप्त मात्रा में पंखे लगे जो चालू स्थिति में थे। कार्यवाहक अध्यक्ष द्वारा जेल अधीक्षक को कोरोना के खतरे को देखते हुए नए बंदियों को क्वारंटाईन में रखने व बंदियों की कोविड-19 से सुरक्षा एवं साफ-सफाई हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये है। मानव अधिकार आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष ने रसोई से लेकर अस्पताल, महिला बंदियों के परिसर में गए। वहां बंदियों से बात कर उनकी समस्याओं से रूबरू हुए।

छत्तीसगढ़ मानव अधिकार आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष श्री गिरिधारी नायक ने सिटी कोतवाली के निरीक्षण के दौरान मुलाहिजा रजिस्टर, विवेचक कक्ष, एमएलसी रिपोर्ट सहित स्थायी वारंट इत्यादि की जानकारी ली। उन्होंने परिसर में रखे कंडम वाहनों की बिक्री नियमानुसार करने कहा। अध्यक्ष ने स्कूल निरीक्षण के दौरान बच्चों से उनके पढ़ाई-लिखाई के संबंध में बातचीत की और बच्चों से प्रश्न भी पूछे। श्री नायक ने विद्यार्थियों से कुछ सवाल भी पूछे जिनका विद्यार्थियों ने उत्तर बिल्कुल सही-सही दिया गया। इस दौरान उन्होंने विद्यार्थियों के लिए बनाए जा रहें भोजन कक्ष का भी अवलोकन किया और बच्चों के लिए गुणवत्तापूर्ण भोजन बनाने के निर्देश दिए। कार्यवाहक अध्यक्ष श्री गिरिधारी नायक के निर्देश पर उपसचिव , छत्तीसगढ़ मानव अधिकार आयोग ने बागबाहरा आरक्षी केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, बाल आश्रम तथा शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला का भी निरीक्षण किया गया है।

Next Story