ब्रेकिंग : कोरोना को लेकर शिक्षक ने व्हाट्सएप पर वायरल की झूठी जानकारी…,.चिकन खाने के बाद कोरोना से हुई मौत की झूठी खबर की थी शेयर….कलेक्टर ने तत्काल प्रभाव से किया सस्पेंड….पढ़िये शिक्षक ने क्या की थी व्हाट्सएप ग्रुप में वायरल… आर्डर भी पढ़िये

रायपुर 11 मार्च 2020। “कोरोना से डरिये मत, सावधान रहिये”….सरकार “एंटी कोरोना जागरूकता” के श्लोगन में इस बात का जिक्र जरूर करती है कि कोरोना को लेकर पैनिक फैलाने की जरूरत नहीं है। लेकिन कोरोना को लेकर सोशल मीडिया में भ्रम फैलाना एक शिक्षक को महंगा पड़ गया। मामला कांकेर का है, जहां एक एलबी व्याख्याता  हिमन कोर्राम ने व्हाट्सएप ग्रुप में कोरोना वायरस को लेकर गलत जानकारी वायरल की थी।

एलबी व्याख्याता हिमन कोर्राम नरहरपुर विकासखंड में BRC  यानि खण्ड स्त्रोत समन्वयक के तौर पर पदस्थ हैं। हिमन ने आज ही अपने मोबाइल से कोरोना को लेकर अपुष्ट और भ्रामक जानकारी वायरल कराया था। कलेक्टर ने इसे सोशल मीडिया के दुरुपयोग एवं सिविल सेवा का उल्लंघन बताया है।

हिमन कोर्राम को सोशल मीडिया के दुरुपयोग एवं सिविल सेवा आचरण नियम का उल्लंघन करने के कारण छत्तीसगढ़ सिविल सेवा नियम 1966 के नियम 9 के उपनियम 1 के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। सस्पेंशन पीरियड में बीआरसी हिमन को बीईओ चारामा के दफ्तर में अटैच किया गया है।

 

Spread the love