ब्रेकिंग : ADG अनुराग गुप्ता को राज्य सरकार ने किया सस्पेंड…. 1990 बैच के IPS अफसर पर लगा था चुनाव के दौरान गड़बड़ी का आरोप….धमकाते हुए CD हुई थी वायरल

रांची 14 फरवरी 2020। झारखंड सरकार ने ADG रैंक के IPS अफसर को सस्पेंड कर दिया है। 1990 बैच के IPS अनुराग गुप्ता अभी CID में एडीजी पोस्टेड थे। अनुराग गुप्ता पर चुनाव ड्यूटी में धमकी देने का आरोप था। हालांकि ये पूरा मामला 2016 का था, जब रघुवर दास की सरकार थी। अनुराग गुप्ता ने राज्यसभा चुनाव के दौरान भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में संबंधित दूसरे प्रत्याशी को धमकाने का आरोप लगा था। हालांकि जब तक रघुबर सरकार रही अनुराग गुप्ता की कुर्सी बची रही, लेकिन हेमंत सोरेन सरकार आते ही एडीजी को सस्पेंड कर दिया गया।

2016 में बाबूलाल मरांडी की शिकायत चुनाव आयोग में किये जाने के बाद आयोग ने इस मामले में IPS  अनुराग गुप्ता पर FIR दर्ज कराने और विभागीय कार्रवाई के निर्देश दिये थे। सके बाद आयोग के प्रधान सचिव वीरेंद्र कुमार ने रांची आकर जांच की थी। फिर तत्कालीन मुख्य सचिव को लिखे पत्र में अनुराग गुप्ता के खिलाफ केस दर्ज करने को कहा था।

जांच के बाद 13 जून 2017 को निर्वाचन आयोग ने अनुराग गुप्ता के खिलाफ एफआईआर और विभागीय कार्यवाही चलाने का निर्देश दिया था।  आपको बता दें कि राज्यसभा चुनाव 2016 में कथित गड़बड़ की शिकायत के बाद 2017 में एक सीडी तत्कालीन झाविमो प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने सीडी जारी की थी।

इस सीडी में भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में वोट देने के लिए पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को एडीजी की तरफ से धमकाने का जिक्र था। 2 दिन में एडीजी ने योगेंद्र साव को 26 बार कॉल किया था और साथ ही ये चेतावनी दी थी कि अभी रघुबर दास की सरकार 3-4 साल रहेगी, वो उन्हें बहुत ऊपर ले जायेंगे।

 

Spread the love