ब्रेकिंग : अजीत जोगी को कोमा से बाहर लाने की डाक्टरों ने शुरू की कोशिश…..बॉडी वार्म और दवा का डोज किया जा रहा कम…. रमन सिंह देखने पहुंचे, …तस्वीरें देखिये

रायपुर 11 मई 2020। अजीत जोगी की जिंदगी के लिए अगले 24 से 48 घंटे बेहद अहम होंगे। अभी तक उन्हें 33 डिग्री से 34 डिग्री के तापमान पर रखा गया था, लेकिन अब उनके बॉडी को गरम किया जायेगा, साथ ही नींद की दवा भी कम की जायेगी, ताकि उनके बॉडी में हलचल शुरू की जा सके। अभी तक वो कोमा में हैं। अस्पताल में अजीत जोगी लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर ही अभी रखे गये हैं। हालांकि अच्छी बात ये है कि दिमाग को छोड़कर बॉडी का तमाम पार्ट काम कर रहा है। हार्ट बीट, पल्स रेट सहित सभी फंक्शन काम कर रहे हैं, लेकिन दिमाग में हलचल ना के बराबर है।

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह अजीत जोगी को देखने पहुंचे और अजीत जोगी के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। डॉ. सिंह ने इस दौरान परिजनों व चिकित्सकों से चर्चा कर पूर्व मुख्यमंत्री जोगी के इलाज और स्वास्थ्य की जानकारी ली। डॉ. सिंह ने विश्वास व्यक्त किया कि जकांछ प्रमुख जोगी शीघ्र स्वस्थ होकर प्रदेश की सेवा में प्रस्तुत होंगे। उन्होंने कहा कि अजीत जोगी हमेशा फाइटर रहे हैं और दृढ इच्छाशक्ति की बदौलत वो जरूर जीवन के इस संघर्ष को भी जरूर जीतेंगे।

वहीं अमित जोगी ने कहा कि हमेशा से अजीत जोगी ऐसे संघर्षों के बाद कई बार जीतकर लौटे हैं। अजीत जोगी के साथ प्रदेश की ढ़ाई करोड़ नजता का आशीर्वाद है और वो जरूर फिर से हमारे बीच में होंगे। अमित जोगी ने कहा कि मेडिकल इतिहास में कम ही ऐसा होता है, कि जिनकी पल्स चली गयी हो, जिनकी हार्ट बीट बंद हो गयी है, वो फिर से रिवाइब कर जाये। सांस रूकने की वजह से 5-7 मिनट तक दिमाग में आक्सीजन नहीं पहुंचा, उससे नुकसान हुआ है, लेकिन वो जल्द ही स्वस्थ्य हो जायेंगे।

वहीं डाक्टर सुनील खेमका ने बताया कि उनके बॉडी को फिर से वार्म करके दवा के डोज को कम किया जायेगा। साथ ही नींद की दवा को भी कम किया जायेगा, ताकि ये पता चल सके कि उनके ब्रेन को कितना नुकसान हुआ है। हालांकि उनका हार्ट बीट अभी सही काम कर रहा है, बिना दवा के पल्स और अन्य बॉडी के फंक्शन अच्छे से काम कर रहे हैं। दोपहर बाद से डाक्टरों की टीम उनको फिर से रि-वार्म कर चेतना जगाने का काम करेगी।

Spread the love