ब्रेकिंग : कर्मचारियों के लिए कोरोना को लेकर बड़ी खबर : 7 दिन की ड्यूटी के बाद 14 दिन क्वारंटीन में रहेंगे कर्मचारी…. रोटेशन के साथ एक तिहाई अधिकारी-कर्मचारी की लगेगी ड्यूटी…. सुरक्षाकर्मियों के पास दर्ज नामों के आधार पर ही मिलेगा प्रवेश… मंत्रालय-इंद्रावती कर्मचारी-अधिकारी संगठनों के साथ बैठक में हुआ फैसला

रायपुर 9 सितंबर 2020। छत्तीसगढ़ में कोरोना के गहराते संकट के बीच मंत्रालय व संचालनालय के कर्मचारियों को राज्य सरकार ने बड़ी राहत दी है। अब कर्मचारी सप्ताह में 6 दिन की ड्यूटी के बाद 14 दिन होम क्वारंटीन रहेंगे। आज कर्मचारी प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई बैठक में इस बात का निर्णय लिया गया। कल मुख्यमंत्री ने कर्मचारियों-अधिकारियों की कोरोना के मद्देनजर समस्याओं को दूर करने का निर्देश दिया था। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद आज चीफ सिकरेट्री ने जीएडी के सचिव कमलप्रीत सिंह और डीडी सिंह को बातचीत कर समस्या के निराकरण का निर्देश दिया था।

बैठक में इस बात का निर्णय लिया गया कि कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है इससे कर्मचारियों अधिकारीयों को शासकीय काम काज सुरक्षित एवं सुचारू रूप से संचालित होता रहे इसके लिए रोटेशन प्रणाली को और अधिक सरलीकरण किया जाएगा। एक तिहाई उपस्थिति में एक कर्मचारी एक सप्ताह काम करने के बाद 14 दिन तक होम आइसोलेशन पर रहेगा। इस व्यवस्था से वायरस का फैलाव रोकने में मदद मिलेगी। इसी तरह राजपत्रित अधिकारियों की ड्यूटी अब एक तिहाई रोटेशन अनुसार लगेगी, जिसमें मंत्रालय एवं विभागाध्यक्ष के राजपत्रित अधिकारी शामिल है। इंद्रावती भवन के पीछे 10 बिस्तर अस्पताल में स्थाई कोरोना टेस्ट की व्यवस्था नवा रायपुर के सभी कार्यालयों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए की जाएगी।

सभी कार्यालय भवनों का सेनेटाईजिंग अनिवार्य रूप से सुबह और शाम को भी नियमित किया जाएगा । प्रत्येक दिन विभाग प्रमुख रोस्टर अनुसार अधिकारियों एवं कर्मचारियों की सूची सुरक्षा अधिकारी को उपलब्ध कराया जाएगा।सुरक्षा अधिकारी इस सूची अनुसार ही भवन में प्रवेश की अनुमति देंगे। शुक्रवार 11 सितंबर की शाम से सोमवार 14 तारीख की पूर्वाह्न तक समस्त नवा रायपुर स्थित कार्यालय पूर्णतः बंद रखने निर्णय लिया गया। सचिव के द्वारा लगातार कोविड 19 टेस्ट शिविर मंत्रालय महानदी भवन तथा विभागाध्यक्ष कार्यालय में भी शिविर लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग को आवश्यक निर्देश जारी किए जाएंगे। ताकि स्वास्थ्य परीक्षण सुरक्षित रहे।

कर्मचारियों अधिकारीयों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए शासन हरसंभव प्रयास किया जा रहा है।। इसके लिए जागरूकता अभियान चलाये जाने कर्मचारी संघों को अपील भी किया गया कि मास्क पहने, पर्याप्त दूरी रखें, सेनेटाईजर और हेंडवास का उपयोग जरूर करेंगे। सुरक्षित रखने हम सब एकजुट होकर काम करेंगे। तभी कोरोना का कहर खत्म हो पाएगा।
पदाधिकारियों ने अपनी जिम्मेदारी समझ सहभागिता निभाने की का जागरूकता अभियान में सहयोग का वादा किया गया है।

कमल वर्मा ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी के अपील निर्देश का हम शासन को शासकीय काम में हर संभव मदद कर रहे हैं और आगे भी सहयोग करेंगे और गाईड लाइन के अनुसार जागरूकता अभियान में शासन का पूरा पूरा सहयोग करेंगे।देवलाल भारती अध्यक्ष के द्वारा कोरोना संकट में कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण और जरुरी निर्देश दिए जाने पर माननीय मुख्यमंत्री जी और मुख्य सचिव सहित सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव द्वय को धन्यवाद आभार प्रकट किया गया। श्री संजय सिंह, ने कहा कि समस्त विभागाध्यक्ष कार्यालय में कोरोना वायरस से रोकथाम के लिए जरूरी नियमों का पालन करने बचने के लिए मास्क पहनने एवं पर्याप्त दूरी बनाए रखने जागरूकता अभियान चलाने सभी संघ पदाधिकारियों से अपील की गई है जिस पर श्री मनोहर लोचनम ने कहा कि हम सभी सहयोग करेंगे ।

बैठक में सर्व कमल वर्मा (संयोजक) प्रदेश अध्यक्ष राजपत्रित अधिकारी संघ, संजय सिंह प्रांताध्यक्ष छत्तीसगढ़ लिपिक वर्गीय संघ, देवलाल भारती अध्यक्ष छत्तीसगढ़ मंत्रालय शीघलेखक संघ, मंत्रालय कर्मचारी संघ से  के पी नेताम, जमील अहमद, कृष्ण लाल कश्यप, टी आर रावटे, वन कर्मचारी प्रकोष्ठ अध्यक्ष मनोहर लोचनम, राजेश पिल्ले, प्रदेश अधिकारी कर्मचारी संघ अध्यक्ष करण सिंह अटरिया, अमोद श्रीवास्तव, कार्यकारी अध्यक्ष शासकीय संयुक्त कर्मचारी संघ, भोलाराम कीर महासचिव संयुक्त कर्मचारी संघ आदि पदाधिकारी उपस्थित हुए।

Spread the love