ब्रेकिंग : 50 SECL कर्मी क्वारंटाईन में भेजे गये …..जिस मस्जिद में कोरोना पॉजेटिव मरीज रह रहा था, वहीं पढ़ी थी जुमे की नवाज…. 28 दिन तक रहेंगे एकांत में

Spread the love

एसईसीएल ढेलवाडीह के 50 कर्मी हुए क्वारेंटाईन

कोरबा 6 अप्रैल 2020। कोरबा फिलहाल कोरोना के मद्देनजर काफी संवेदनशील हो गया है। हालांकि कोरबा के लिए सोमवार को एक अच्छी खबर भी आयी, दो कोरोना पॉजेटिव मरीजों में से एक मरीज को आज डिस्चार्ज कर दिया गया। ब्रिटेन से आये उस युवक को 30 मार्च को रायपुर के एम्स में भर्ती कराया गया था, हालांकि उसकी मुश्किलें फिलहाल खत्म नहीं हुई है, क्योंकि क्वारंटाईन नियम का पालन नहीं करने और विदेश दौरे की जानकारी छुपाने के आरोप में उसके और उसके पिता पर FIR दर्ज कर लिया गया है।

इधर SECL से जुड़ी एक बड़ी खबर आ रही है। जहां 50 से ज्यादा कर्मचारियों को क्वारंटाईन में भेज दिया गया है। इन सभी कर्मचारियों ने हेल्थ गाइडलाइन को ठेंगा दिखाते हुए सामूहिक नमाज अता की थी। शुक्रवार को इन सभी ने सामूहिक तौर पर नमाज पढ़ी थी, जबकि जिला प्रशासन ने इस पर कड़ाई से निर्देश जारी किया था कि सभी घरों में रहकर ही नवाज पढ़े। सबसे चौकाने वाली बात ये है कि जिस मस्जिद में सभी ने नमाज पढ़ी थी, वो वही मस्जिद है, जहां एक कोरोना पाजेटिव नाबालिग मिला है, जिसे रायपुर एम्स में भर्ती कराया गया है।

इस बात की जानकारी सामने आने के बाद एसईसीएल प्रबंधन ने कटघोरा जामा मस्जिम में नमाज पढ़ने वालों के साथ ही उनके साथ काम करने वाले अन्य 50 कर्मियों को 6 अप्रैल से डयूटी नही आने का आदेश जारी करते हुए 28 दिनों के होम क्वारेंटाईन में रहने का फरमान जारी किया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.