comscore

ब्रेकिंग : 5 जवान शहीद- 3 IED ब्लास्ट बस के आगे के हिस्से में हुए थे….जंगल में रात गुजारकर दोपहर में लौटे थे जवान….पढ़िये हमले की पूरी इनसाइड स्टोरी… कब, कहां, कैसे हुई ये वारदात

रायपुर/नारायणपुर 23 मार्च 2021। नारायणपुर में शहीद जवानों की संख्या बढ़कर 5 हो गयी है। शहीद जवानों में 2 प्रधान आरक्षक, एक आरक्षक, एक सहायक आरक्षक और एक चालक आरक्षक शामिल हैं। बलास्ट के दौरान मौके पर ही चालक आरक्षक सहित तीन जवान शहीद हो गये थे। बाद में दो और जवान भी शहीद हो गये।

इस घटना में 3 जवान अभी भी बेहद गंभीर हैं, जिन्हें नारायणपुर से रायपुर चौपर से लाया जा रहा है। अब से कुछ देर पहले नक्सल आपरेशन के डीजी अशोक जुनेजा ने पत्रकारों से बात करते हुए घटना की पूरी जानकारी दी। डीजी अशोक जुनेजा के मुताबिक ब्लास्ट शाम करीब सवा चार बजे के आसपास उस वक्त हुई, जब जवान बस में सवार होकर नारायणपुर अपने बेस कैंप लौट रहे थे। बस के सामने के हिस्से में ब्लास्ट हुआ है, इसकी वजह से आगे बैठे जवान इसमें शहीद हुए।

नक्सल डीजी के मुताबिक नक्सलियों की बड़ी संख्या में जमावड़े की सूचना मिली थी, जिसके बाद डीआरजी की टीम को आपरेशन के लिए भेजा गया था, दो दिन तक जंगल में रहने के बाद डीआरजी के जवान आज सुरक्षित वापस लौट आये थे। जहां से शाम करीब सवा चार बजे वो सभी नारायणपुर अपने बेस कैंप लौट रहे थे। इसी दौरान पुलिया पर एक के बाद एक तीन ब्लास्ट हुए, जिसमें कुल 5 जवान शहीद हो गये हैं। 3 जवान की हालत बेहद गंभीर हैं, जिन्हें नारायणपुर से एयर लिफ्ट कर रायपुर लाया जा रहा है।

डीजीपी-नक्सल डीजी कल जायेंगे घटनास्थल

लंबे समय बाद ऐसी घटना हुई है, लिहाजा पुलिस महकमा इसे काफी गंभीरता से ले रहा है। डीजीपी डीएम अवस्थी, नक्सल डीजी अशोक जुनेजा सहित कुछ और शीर्ष अधिकारी मौके पर पहुंच रहे हैं। नक्सल डीजी अशोक जुनेजा के मुताबिक रोड ओपनिंग भी बस को रवाना करने से पहले करायी गयी थी, वहीं डीप माइन भी किया गया था, इसके बावजूद ये घटना हुई है। इस मामले की जांच की जायेगी।

 दो दिन से जंगल में थे जवान

22 मार्च को नक्सलियों की मौजूदगी की जानकारी मिली थी, जिसके बाद दंतेवाड़ा के बोदली और नारायणपुर के कड़ेमेटा से फोर्स रवाना की गयी थी। नारायणपुर के 90 जवान आपरेशन के लिए निकले थे। आज दोपहर करीब सवा बजे जवान कड़ेमेटा कैंप लौटे थे। जवान कैंप से नारायणपुर मुख्यालय के लिए लौट रहे थे। शाम करीब सवा चार बजे जैसे ही बस कड़ेनार व कन्हारगांव के बीच पहुंची, कड़ेनार कैंप से करीब 3 किलोमीटर दूर मरोड़ा गांव के पास नक्सलियों ने डीआरजी जवानों को लेकर जा रही बस को ब्लास्ट से उड़ा दिया। बलास्ट के बाद बस एक गड्ढे में गिर गयी।

ये जवान हुए हैं शहीद

इस हमले में 5 जवान शहीद हुए हैं, जिनमें 2 प्रधान आरक्षक, एक आरक्षक, एक चालक आरक्षक और एक सहायक आरक्षक शामिल है।

प्रधान आरक्षक पवन मंडावी (बहीगांव) और जयलाल उईके (कसावाही), आरक्षक सेवक सलाम (कांकेर), आरक्षक चालक करन देहारी (अंतागढ़) व सहायक आरक्षक विजय पटेल (नारायणपुर) सहित 5 जवान शहीद हो गये हैं। इस हमले में 9 जवान घायल हुए हैं। 3 गंभीर रूप से घायल जवान को रायपुर लाया जा रहा है। बस जिला पुलिस बल की बतायी जा रही है। ब्लास्ट के वक्त बस में 27 जवान सवार थे।

 

Spread the love