वीडियो कॉल से फर्जी अश्लील वीडियो बना NSUI प्रदेश अध्यक्ष को ब्लैकमेल की कोशिश…. दर्ज करायी FIR, फेसबुक के जरिये खुद जानकारी की साझा… आप भी रहिये सावधान

रायपुर 7 सितंबर 2020। कोरोना काल में भी कुछ लोग फर्जीवाड़े से बाज नहीं आ रहे हैं। इसी कड़ी में अब NSUI के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा का फर्जी वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। दरअसल आकाश शर्मा के मोबाइल पर एक अज्ञात नम्बर से कई बार वीडियो कॉल आये इसमें कई बार कॉल आने के बाद अंततः उन्होंने कॉल उठाया जिसके बाद वीडियो काल में एक महिला निर्वस्त्र होकर वीडियो बना लिया। महिला ने ब्लैकमेल करते हुये, विडियो वायरल करने की बात कहने लगी। आकाश ने बताया कि विडियो वायरल के ऐवज में महिला ने 7100 रूपये देने की मांग करने लगी ।  मामले की रिपोर्ट एनएसयूआई के प्रतिनिधि व पदाधिकारियों ने थांने में दर्ज करवाई है ।

आकाश शर्मा ने फेसबुक के माध्यम से ब्लैकमेल की ये पूरी वारदात साझा की हैं। उन्होंने बताया कि निरन्तर साइबर क्राइम की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं, इसी प्रकार मुझे 30 अगस्त 2020 से 8239638718 नम्बर से निरंतर मैसेज और कॉल आने लगे। लगातार आ रहे कॉल मैसेज से परेशान होकर मैंने कॉल रिसीव कर लिया। काल रिसीव करने के पश्चात जब तक मैं कुछ समझ पाता, उस कॉल पर अश्लील हरकते शुरू हो गयी। मुझे समझ आया कि यह साइबर क्राइम सम्बंधित हो रहा हैं और मैंने तत्काल फोन काट दिया, जिसके बाद मुझे “एडिट किया हुआ वीडियो क्लिप” भेजा गया और वीडियो वायरल करने की धमकी देते हुए मुझसे पैसों की मांग शुरू हो गयी। मैं छात्र ईकाई का एक प्रतिष्ठित व्यक्ति हूँ इस प्रकार की घटना घटित होते ही मैंने कानूनी कार्यवाही का रुख अपनाया और पुलिस को इसकी शिकायत दर्ज करवाई और इसके खिलाफ कार्यवाही की मांग की हैं।

आकाश शर्मा ने अपील किया कि साथियों मेरा आपसे अनुरोध हैं आप सभी सतर्क रहें सावधान रहें इस प्रकार के गिरोह समाज मे टेक्नोलॉजी का उपयोग कर अपराध को अंजाम दे रहे हैं, यह आपको भी अपना शिकार बना सकते है पुलिस प्रशासन इसपर कड़ी कार्यवाही कर और इन घटनाओं पर लगाम लगाने हेतु प्रयासरत हैं आप सभी ऐसी घटनाओं से बच के रहें।
व NSUI प्रदेश प्रवक्ता सौरभ सोनकर ने बताया कि साइबर सेल प्रभारी अभिषेक महेश्वरी जिला रायपुर छत्तीसगढ़ के समक्ष मे रिपोर्ट लिखाया गया व उचित कार्यवाही करने कि बात की गई व अभी वर्तमान में आकाश शर्मा कोरोना पाज़िटिव पाये थे , व 4 सितंबर को वहा ऐम्स से छुट्टी होकर घर आये है व नियमों के अनुसार 7 दिन के होमकोरेनटाई में रहकर स्वास्थय लाभ लेय रहे हैं। तो इस कारण वहा रिपोर्ट लिखाने नहीं जा पाये व NSUI के प्रतिनिधि मंडल के द्वारा यहा रिपोर्ट लिखाया गया व उसकी चैट स्करीन साट की मूल प्रति व फर्जी विडियो को सनडिस्क के पेन ड्राईव मे साइबर सेल को सौपा गया यह जानकारी NSUI के प्रदेश प्रवक्ता सौरभ सोनकर ने मिडिया को दिया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.