कोरोना वैक्सीन पर सबसे बड़ी खुशखबरी: कोविशील्ड व कोवैक्सीन के इस्तेमार पर DCGI की मुहर….जानिये कितनी कारगर है ये वैक्सीन…

नयी दिल्ली 3 जनवरी 2020। कोरोना वैक्सीन पर ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया यानी कि DCGI ने बड़ा ऐलान किया है. DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड और भारत बायोटेक की वैक्सीन कोवैक्सीन को आपातकाल इस्तेमाल की अंतिम मंजूरी दे दी है. अब ये वैक्सीन देश में आम लोगों को लगाए जा सकेंगे. इससे पहले SEC ने 1 जनवरी को कोविशील्ड और 2 जनवरी कोवैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति देने की सिफारिश DCGI से की थी. DCGI ने इस पर आज मुहर लगा दी है.

रविवार की सुबह 11 बजे ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) की प्रेस कॉन्फ्रेंस में कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) के आपातकालीन इस्तेमाल पर आधिकारिक ऐलान किया है. इसपर पूरे देश की निगाहें टिकी थीं. दूसरी तरफ वैक्सीनेशन के लिए कई राज्यों में दो जनवरी 2021 यानि कल शनिवार को ड्राई रन की प्रक्रिया शुरू हुई जिसके तहत वैक्सीनेशन का मॉकड्रिल किया जा रहा है.

बता दें कि कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर बनी एक्सपर्ट कमेटी ने पिछले 48 घंटों में दो वैक्सीन को देश में आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. कमेटी ने साल के पहले दिन कोविशील्ड (Covishield) को और अब कोवैक्सीन (Covaxin) को अपनी मंजूरी दे दी है. इस तरह से अब DCGI की अनुमति मिलते ही वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी.

भारत में ही बनी हैं दोनों वैक्सीन

कोवैक्सीन (Covaxin) पूरी तरह से स्वदेशी है और इसे भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने बनाया है. ये वैक्सीन हैदराबाद लैब में तैयार की गई है. तो वहीं, कोविशील्ड (Covishield) को ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका ने मिलकर बनाया है और भारत में इसका निर्माण सीरम इंस्टिट्यूट (Serum Institute) द्वारा किया जा रहा है.

Spread the love