npg

दिवालिया होने की कगार पर पाक...पाकिस्तान की आर्थिक हालत इतनी खराब कि नया कर्ज मिलना मुश्किल, क्योंकि एक-एक पाकिस्तानी पर 1.88 लाख का कर्ज

दिवालिया होने की कगार पर पाक...पाकिस्तान की आर्थिक हालत इतनी खराब कि नया कर्ज मिलना मुश्किल, क्योंकि एक-एक पाकिस्तानी पर 1.88 लाख का कर्ज
X

नई दिल्ली, 13 अक्टूबर 2021। भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति ऐसी हो गई है कि अब कोई नया कर्ज देने के लिए तैयार नहीं है। अपनी नापाक हरकतों से भारत के लिए मुश्किलें खड़ी करने वाले पाकिस्तान के हर नागरिक पर 1.88 लाख का कर्ज है। पाकिस्तान की हालत बांग्लादेश, इथियोपिया, घाना, केन्या, नाइजीरिया, मंगोलिया, उज्बेकिस्तान, बंगोला और जाम्बिया जैसी हो गई है, जिन्हें डेट सर्विस सस्पेंशन इंनीशिएटिव के तहत सारे कर्ज सस्पेंड करने की नौबत है। जो भी विकासशील देश खस्ता हालत में होते हैं, कुछ समय के लिए उन्हें मिलने वाले सारे कर्ज सस्पेंड कर दिए जाते हैं। विश्व बैंक द्वारा यह कार्यवाही की जाती है। बता दें कि बेहद दयनीय आर्थिक स्थिति से गुजर रहे पाकिस्तान ने चीन से चार महीने पहले कर्ज माफी की गुहार लगाई थी। हालांकि चीन ने दो टूक मना कर दिया था। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान-चीन इकॉनामिक कॉरिडोर के अंतर्गत लिए गए करीब 22 हजार करोड़ कर्ज को माफ करने की अपील की थी, लेकिन चीन सहमत नहीं हुआ।

बता दें कि एक दिन पहले ही पाकिस्तान के वित्त मंत्री शौकत तारिन ने कहा था कि दो अफगान युद्धों में पाकिस्तान की भागीदारी ने देश की अर्थ व्यवस्था को अस्थिर कर दिया और देश की जनता की आय पर प्रभाव पड़ा है।

Next Story