npg
बड़ी खबर

पड़ोसी राज्यों के IG-SP के साथ करें बैठक... CM भूपेश बोले- नशीले पदार्थों पर रोकथाम के लिए पड़ोसी राज्यों के अफसरों के साथ बैठक करें, समन्वय बनाकर काम करें कलेक्टर-एसपी

Hold a meeting with IG-SP of neighboring states... CM Bhupesh said - For prevention of drugs, hold a meeting with officers of neighboring states, work in coordination, Collector-SP

पड़ोसी राज्यों के IG-SP के साथ करें बैठक... CM भूपेश बोले- नशीले पदार्थों पर रोकथाम के लिए पड़ोसी राज्यों के अफसरों के साथ बैठक करें, समन्वय बनाकर काम करें कलेक्टर-एसपी
X

रायपुर, 22 अक्टूबर 2021। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने IG-SP कांफ्रेंस में कहा कि सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य और रोज़गार के क्षेत्र में अभूतपूर्व कार्य किया है। विकास के लिए शांति ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि कलेक्टर और एसपी के बीच परस्पर समन्वय आवश्यक है। कलेक्टर-एसपी महीने में 4-5 बार साथ दौरा करें। ज़िला प्रशासन की उपस्थिति हर स्तर पर दिखनी चाहिए। क़ानून-व्यवस्था बनाए रखना आपकी सबसे बड़ी ज़िम्मेदारी है। मुख्यमंत्री ने टूक कहा कि हत्या के प्रकरणों में 2011 की तुलना में आज की स्थिति में 32% कमी आई है। हत्या के प्रयास में 2011 की तुलना में आज की स्थिति में 37% कमी आई है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि नशीले पदार्थों पर प्रभावी रोकथाम हेतु सीमावर्ती राज्यों ओडिशा, मध्य प्रदेश एवं राजस्थान के अधिकारियों के साथ आईजी-एसपी करें बैठक।


बता दें कि मुख्यमंत्री ने सभी एसपी को थाना, अनुविभाग, ज़िला और रेंज लेवल पर सूचना तंत्र विकसित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी एसपी को हर ज़िले में सोशल मीडिया मॉनिटरिंग की स्पेशल टीम बनाने कहा, जो सोशल मीडिया में अफ़वाह फैलाने वालों का चिन्हांकन कर कार्यवाही करें। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि छोटी घटनाओं का राजनीतिक लाभ लेने अवसरवादी तत्व अफ़वाह, दुष्प्रचार और भ्रामक समाचार फैलाते हैं, उनकी पहचान कर कार्यवाही करना ज़रूरी है। सोशल मीडिया अफ़वाह फैलाने का सबसे बड़ा साधन बन गया है। सोशल मीडिया में भी एक सुदृढ़ आसूचना तंत्र विकसित करना ज़रूरी है।

इससे पहले मुख्यमंत्री बघेल ने IG-SP से दो टूक कहा कि प्रदेश में नशे के कारोबार को पनपने न दिया जाए। एसपी कड़ी कार्रवाई करें। दूसरे राज्यों से आ रहे नशीले पदार्थ छत्तीसगढ़ में नहीं घुसने चाहिए। सीएम बोले कि पूर्व सरकार के समय पुलिस की छवि एक संगठित गिरोह, क्षड्यंत्रकर्ता और वसूली के लिए कुख्यात थी। हमारी सरकार ने इस छवि को बदला है, मैं इसके लिए गृह विभाग को बधाई देना चाहता हूँ। मुख्यमंत्री की दो टूक, प्रदेश में हुक्का बार पूरी तरह प्रतिबंधित हों। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि हमारी सरकार में साम्प्रदायिक हिंसा स्वीकार्य नहीं है। इसे सख्ती से रोकें।

Next Story