npg
बड़ी खबर

Bilaspur News-मैरिज एनिवर्सरी के दिन की आत्महत्या: रिटायर्ड डिप्टी कलेक्टर की बहू ने लगाईं फांसी, मायके वालों ने लगाया प्रताड़ित करने का आरोप

Bilaspur News-मैरिज एनिवर्सरी के दिन की आत्महत्या: रिटायर्ड डिप्टी कलेक्टर की बहू ने लगाईं फांसी, मायके वालों ने लगाया प्रताड़ित करने का आरोप
X

Bilaspur News-बिलासपुर। रिटायर्ड डिप्टी कलेक्टर की बहू और बैंक मैनेजर की पत्नी ने बीती रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। कल ही उसकी मैरिज एनिवर्सरी थी। विवाहिता के पिता हेड मास्टर के पद पर कार्यरत है। 4 साल पहले ही 29 वर्षीय विवाहिता की शादी हुई थी। उसकी 15 माह की एक बेटी भी है। विवाहिता ने फांसी लगाने से पहले सुसाइड नोट भी छोड़ा है। वही मृतका के मायके वालों ने पति समेत ससुराल वालों पर उसे प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है।

मिली जानकारी के अनुसार जांजगीर-चांपा जिले के पामगढ़ निवासी शिक्षक राजकुमार जांगड़े की 29 वर्षीय बेटी युक्ति रानी की शादी 23 जनवरी साल 2019 को तिफरा यदुनंदन नगर में रहने वाले रविकांत महिलाने के साथ हुई थी। राजकुमार जांगड़े चांपा के पास शासकीय मिडिल स्कूल फरसवानी में प्रधान पाठक के पद पर पदस्थ है। उनकी दो बेटी और दो बेटे है। युक्तिरानी (29) उनकी दूसरे नंबर की बेटी थी। उनकी बडी बेटी नीलू रानी वैटनरी डॉक्टर है। उनका बड़ा दामाद भी डॉक्टर है। और सक्ति जिले के जैजैपुर में पदस्थ हैं। शिक्षक राजकुमार जांगड़े ने अपने दोनों बेटियों की शादी आज से 4 साल पहले 23 जनवरी 2019 को एक साथ बिलासपुर में की थी। उनका छोटा दामाद रविकांत महिलाने मस्तूरी क्षेत्र के जयरामनगर- एरमशाही केनरा बैंक में ब्रांच मैनेजर है। रविकांत के पिता जीआर महिलाने रिटायर्ड डिप्टी कलेक्टर है। उनका परिवार तिफरा के यदुनंदन नगर में रहता है। करीबन 7 माह पहले रविकांत अपनी पत्नी युक्ति रानी को लेकर सरकंडा थाना क्षेत्र के मोपका स्थित स्वर्णिम रेसिडेंसी में रहने आ गया। रविकांत कि 10 दिन के लिए भोपाल में ट्रेनिंग लगी थी जहां से वह ट्रेनिंग खत्म कर कल दोपहर 1 बजे वापस आया। शाम 6 बजे वह अपनी 15 माह की बेटी को वैक्सीनेशन करवाने के लिए लेकर गया उसके बाद घर वापस आया।

रविकांत महिलाने के अनुसार वैक्सीनेशन करवा के वापस आने के बाद वह अपनी बेटी के साथ कमरे में खेल रहा था। रात को 10 बजे वह खाना बना है या नहीं यह देखने के लिए किचन में गया। जहां उसे उसकी पत्नी दिखाई नहीं दी। तब उसने बाजू के कमरे में जाकर देखा कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था। बाहर से दरवाजा खटखटाया पर अंदर से कोई जवाब नहीं मिलने पर खिड़की से पर्दा हटा कर अंदर झांक कर देखा। अंदर देखकर उसके होश उड़ गए उसकी पत्नी युक्ति रानी दुपट्टे का फंदा बना पंखे से लटक रही थी। इसके बाद उसने अपने पापा समेत ससुराल वालों को इसकी जानकारी दी। कमरे का दरवाजा तोड़कर फंदे को खोलकर अपनी पत्नी को नीचे उतारा। सूचना मिलने पर युक्ति रानी के पिता समेत उसके भाई व अन्य परिजन भागते हुए बिलासपुर पहुंचे। तब तक रविकांत के पिताजी जीआर महिलाने और अन्य परिजन भी मौके पर पहुंच गए थे। पिता अपनी बेटी को मृत देखकर बदहवास हो गए। युक्ति रानी के दोनों भाइयों ने आक्रोशित होकर अपने जीजा रवि महिलाने और जीजा के पिता की बेल्ट से पिटाई कर दी। सूचना मिलने पर पहुंची सरकंडा पुलिस विवाद को शांत करवा कर रविकांत महिलाने और उसके पिताजी को थाना ले कर आई। शव का पंचनामा बना दूसरे दिन उसे पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया।

युक्तिरानी के परिजनों ने उसके ससुराल वालों पर आरोप लगाया कि उसके ससुर व उसकी ननद समेत पति उसे लगातार शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहे थे। कुछ माह पहले ही युक्ति रानी को रवि लेकर अलग रहने आ गया था। पर उसकी प्रताड़ना का दौर खत्म ही नहीं हो रहा था।

युक्तिरानी के परिजनों ने उसके ससुराल वालों पर आरोप लगाते हुए बताया कि उसके ससुर और उसकी ननद समेत पति उसे लगातार शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहे थे। मृतिका के परिजनों ने आरोप लगाते हुए बताया कि उसे उसका पति फेसबुक व्हाट्सएप टि्वटर कुछ भी नहीं चलाने देता था। कहीं अकेले आने जाने नही देता था। कुछ खरीदना हो तो दुकान भी अपने साथ ही लेकर जाता था। जिसकी जानकारी मृतका युक्तिरानी उन्हें हमेशा फोन पर देती रहती थी। मृतका के मायके वालों के अनुसार ट्रेनिंग में जाने के कुछ दिनों पूर्व से ही रविकांत उनकी बेटी से शराब पीकर मारपीट करता था। कल रात 9:53 बजे भी जब मृतका की मां ने उसे फोन लगाया तो बड़ी मुश्किल से 1 मिनट ही बात हुई उस दौरान भी बेटी से झगड़ने की आवाज आ रही थी। स्पीकर में फोन होने के कारण मृतिका की मां के अलावा अन्य मायके वालों ने भी विवाद को सुना था। साथ ही उन्होंने यह भी आशंका जाहिर की है कि एक अकेला व्यक्ति कैसे दरवाजा तोड़कर फंदे से किसी को उतार सकता है। उन्होंने मृतका के ससुराल वालों पर कार्यवाही की मांग की है। जिस पर सरकंडा पुलिस मृतिका के पति रविकांत महिलाने, ससुर जीआर महिलाने व मृतका की ननद को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

मृतिका ने सुसाइड नोट में लिखा है कि दीदी मेरी मेरी बेटी को अपनी बेटी की तरह रखना और प्यार करना। मेरे बारे में उसे बताना कि अच्छी मम्मा थी, आगे लिखा है कि आई लव यू सबको, पापा-मम्मी, पप्पू भाई अन्नू, बंटू भाई तुम सब खुश रहना। मुझे हमेशा याद करना, सबको मैं बहुत प्यार करती हूं। जो होता है, अच्छे के लिए होता है, सब सक्सेसफूल रहना, मेरी दुआ तुम्हारे साथ है।"

पुलिस ने महिला के शव को कार्यपालिक मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में पंचनामा और पोस्टमार्टम की कार्रवाई के बाद परिजन को सौंप दिया है।

Next Story