comscore

बिग न्यूज : 9वीं, 10वीं, 11वीं के छात्र बिना परीक्षा दिये हो जायेंगे पास…. मुख्यमंत्री ने कहा- इस हालात में परीक्षा लेने की जरूरत नहीं…इस राज्य में जारी हुआ निर्देश

चेन्नई 25 फरवरी 2021। कोरोना के नये स्ट्रेन के अलर्ट के बीच परीक्षार्थियों के लिए राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने निर्णय लिया है कि 9वीं, 10वीं, 11वीं के परीक्षार्थियों को इस साल परीक्षा देने की जरूरत नहीं होगी। तमिलनाडू के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने कहा है कि राज्य में नौवीं, 10वीं और 11वीं कक्षा के सभी छात्रों को इस साल कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर इस शैक्षणिक वर्ष में उत्तीर्ण घोषित करते हुए कहा कि उन्हें इस साल परीक्षाएं नहीं देनी होंगी।

कोरोना वायरस महामारी के कारण देशभर में बच्चों की पढ़ाई का काफी नुकसान हुआ है। हालांकि, लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन क्लासेज के जरिए काफी हद तक इस नुकसान की भरपाई की कोशिश की भी गई। कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए धीरे-धीरे स्कूलों को फिर से खोला जा रहा है। वहीं, अभिभावकों की चिंताओँ को देखते हुए तमिलनाडु सरकरा ने बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री एडप्पादी पलानीस्वामी ने गुरुवार को कहा कि राज्य सरकार ने बिना परीक्षा दिए बच्चों को पास करने का निर्णय लिया है।

राज्य विधानसभा में मुख्यमंत्री ने कहा, ‘ कोरोना महामारी को देखते हुए कक्षा 9वीं, 10वीं और 11वीं के छात्रों को बिना परीक्षा दिए अगली कक्षा में पदोन्नत करने का फैसला किया है। राज्य में 19 जनवरी से 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूल फिर से खुले जा चुके हैं और प्रत्येक कक्षा में 25 से अधिक छात्रों के शामिल होने की अनुमति नहीं है।

पलानीस्वामी ने कहा, ‘‘शिक्षकों एवं छात्रों के समक्ष व्यावहारिक समस्याओं के मद्देनजर पाठ्यक्रम कम किया गया।’’ तमिलनाडु में कोरोना वायरस महामारी के कारण स्कूल बंद हैं। उन्होंने कहा, ‘‘महामारी को फैलने से रोकने के लिए स्कूलों को 25 मार्च, 2020 से बंद करने का आदेश दिया गया और उन्हें कोरोना वायरस को काफी हद तक काबू किए जाने के बाद 19 जनवरी को केवल 10वीं और 12वीं कक्षाओं के लिए खोला गया।’’

Spread the love