बड़ी खबरः IAS को प्लाज्मा थेरेपी…… कोरोना पाॅजिटिव होने के बाद तबियत बिगड़ने पर भिलाई से किया गया रिलेटिव ब्लड ग्रुप का बंदोबस्त….अभी गहन निगरानी में चल रहा ईलाज

रायपुर, 22 सितंबर 2020। छत्तीसगढ़ के कोरोना पाॅजिटिव आईएएस ए टोप्पो को बचाने के लिए बड़ा फैसला लेते हुए कल प्लाज्मा थेरेपी की गई। राजधानी के रामकृष्ण अस्पताल में मिशन प्लाज्मा थेरेपी को सफलतापूर्वक अंजाम दिया गया।टोप्पो को सालो से कई सारी व्याधियां हैं। लेकिन, कोरोना संक्रमित होने के बाद उनकी तबियत बिगड़नी शुरू हो गई तो उन्हें अस्पताल में भरती कराया गया। डाक्टरों ने कई दिन के उपचार के बाद जब पाया कि आईएएस की स्थिति नाजुक हो रही है तो फिर प्लाज्मा थेरेपी पर विचार किया गया। लेकिन, सवाल था कि प्लाज्मा लाया कहां से जाए।

प्लाज्मा उन्हीं का लिया जा सकता है, जो कोरोना संक्रमित होने के बाद ठीक हो गए हो। साथ ही उनका ब्लड ग्रुप भी मिलना चाहिए। ये खबर मिलने के बाद आईएएस बिरादरी आगे आया। राजधानी के कई सारे लोगों से संपर्क किया गया, जिन्हें कोरोना होकर ठीक हो गया था। लेकिन, ब्लड मेल नहीं खाया तो आसपास के जिलों के कलेक्टरों से मदद मांगी गई। आईएएस का ब्लड ग्रुप रेयर है, जो मिल नहीं पा रहा था। आखिरकार, दुर्ग के कलेक्टर डाॅ सर्वेश भूरे ने अथक प्रयास करके एक आदमी को ब्लड देने के लिए तैयार कर लिया। टोप्पो को कल सफलतापूर्वक प्लाज्मा थेरेपी कर दी गई।

हालांकि, प्लाज्मा थेरेपी के बावजूद टोप्पो अब भी आईसीयू में चिकित्सकों की गहन निगरानी में है। अस्पताल के एक सीनियर डाक्टर ने एनपीजी न्यूज को बताया कि आईएएस की हालत पर चिकित्सकों की टीम लगातार नजर रखी हुई है।

ये वीडियो भी देखें….

Get real time updates directly on you device, subscribe now.