शिक्षकों के लिए बड़ी खबर : …अब लाउडस्पीकर से लेनी होगी बच्चों की क्लास…. बस्तर के बाद प्रदेश भर में किया जा रहा है लागू… इस तरह से होगी लाउडस्पीकर से पढ़ाई …

रायपुर 25 जुलाई 2020। छत्तीसगढ़ में अब जल्द ही लाउडस्पीकर के जरिये स्कूलों में पढ़ाई होगी। राज्य सरकार इस बाबत जल्द ही गाइडलाइन जारी करेगी। छत्तीसगढ़ में आनलाइन क्लास में लगातार आ रही दिक्कत की शिकायत के मद्देनजर राज्य सरकार अब पढ़ाई के इस नये कांसेप्ट पर विचार कर रही है। अनुमान है कि राज्य की 10 हजार ग्राम पंचायतों में करीब 10 लाख बच्चे इस लाउडस्पीकर नीति से पढ़ाई कर सकेंगे। कक्षा की शुरुआत हर दिन राजगीत से होगी।

राज्य सरकार के फैसले के मुताबिक सभी जिलों की प्रत्येक पंचायत में कम से कम एक स्कूल में इस योजना पर एक सप्ताह के भीतर अमल करना होगा। बच्चों को पढ़ाई के लिए लाउडस्पीकर या तो गांव या फिर डीजे वालों से लेकर पढ़ाई कराना होगा। शिक्षक एक अलग जगह से लाउड स्पीकर के जरिये पढ़ाई करायेंगे और बच्चे अपने-अपने घरों के बाहर या फिर तीन-चार की संख्या में बैठकर पढ़ाई करेंगे। ये प्रयोग पहले बस्तर व महासमुंद में हो चुका है।

शिक्षा विभाग ने इस बाबत तैयारी के निर्देश दे दिये हैं। बस्तर जिले में लाउडस्पीकर से 56 पंचायतों में पढ़ाई प्रारंभ होगी। खास बात ये है कि घरों के बाहर बच्चों के साथ परिजन भी बैठ सकते हैं, जिसकी वजह से बच्चों को होमवर्क कराने में भी मदद मिलती है। बस्तर में ये प्रयोग काफी सफल रहा है।

Spread the love