ट्रिपल मर्डर व गैंगरेप : बिग अपडेट। पिता और भतीजी को मारने के बाद लड़की से पूरी रात होती रही हैवानित……मालिक ही था रोंगटे खड़े कर देने वाली गैंगरेप व मर्डर का मास्टरमाइंड……अश्लील हरकत का राज खुल जाने और लड़की के इनकार के बाद वारदात का शक

कोरबा 3 फरवरी 2021। कोरबा में रूह कांपने वाले ट्रिपल मर्डर और गैंगरेप मामले में बड़ा अपडेट सामने आया है। जिस व्यक्ति के घर पर राष्ट्रपति का दत्तक कहा जाने वाला ये परिवार काम करता था, वहीं संतराम बिझवार इस मर्डर और गैेगरेप का मास्टरसाइंड था। लड़की से अश्लील हरकत का राज खुल ना जाये, इसी वजह से संतराम ने अपने साथियों के साथ मिलकर रोंगटे खड़े कर देने वाली इस वारदात को अंजाम दिया।

मास्टरमाइंड की लड़की पर थी गंदी नजर, अश्लील हरकत का भी शक

पुलिस सूत्रों के मुताबिक 16 वर्षीय लड़की पर शादीशुदा संतराम की पहले से ही गंदी नजर थी….लड़की जब घर में अकेली होती थी, तो संतराम सुनसान घर में घुस आता था। इस दौरान अश्लील हरकत करने का भी शक है। इस मामले की जानकारी लड़की ने अपनी मां और बाबूजी को बतायी थी। लड़की ने उन्हें ये भी बताया था कि संतराम उससे शादी की बात करता है, लेकिन वो उसके साथ नहीं रहेगी और यहां काम भी अब नहीं करेगी। जिसके बाद परिवार के लोग संतराम के घर से काम छोड़ने की तैयारी कर रहे थे। लेकिन संतराम लड़की की वजह से परिवार को जाने नहीं देना चाहता था।

आरोपी को था राज खुल जाने और पुलिस में शिकायत का शक

शुक्रवार को ये आदिवासी त्योहार का बहाना बनाकर घर जाने लगा, तो संतराम के दिमाग पर सनक सवार हो गयी। संतराम ने अपने साथियों के साथ मिलकर मर्डर की पूरी प्लाननिंग तैयार कर ली। संतराम ने अपने एक साथी उमाशंकर को बाइक से मृतिका की मां और उसकी भतीजी को बस स्टैंड छोड़ने को कहा। संतराम ने बताया कि मृतिका को उसके पिता और एक अन्य भतीजी के साथ वो थोड़ी देर बाद छोड़ देगा।

पहले पिता और भतीजी को मारा फिर किया गैंगरेप

महिला के साथ छोटी बच्ची को भेजने के बाद जब लड़की अपने पिता और भतीजी के साथ घर जाने निकली, तो कुछ दूर जाने के बाद लेमरू के जंगल में संतराम ने अपने साथियों के साथ सभी को घेर लिया। इस दौरान लड़कों ने लड़की के पिता के साथ लाठी डंडों से पीटना शुरू कर दिया। बाद में पत्थर से कुचलकर उसे मार डाला। ये देखकर जब छोटी बच्ची रोने लगी, तो आरोपियों ने उसे भी मार डाला। बाद में लड़की को लेकर आरोपी थोड़ी दूर गये और फिर वहां सभी ने लड़की के साथ गैंगरेप किया।

गैंगरेप शुक्रवार को, लेकिन लड़की को अगले दिन दफनाने का शक

सूत्रों के मुताबिक लड़की के साथ शुक्रवार की शाम को 6 आरोपियों ने गैंगरेप किया था। उससे पहले उसके पिता और भतीजी की आरोपियों ने हत्या कर दी थी। लेकिन पुलिस को शक है कि  लड़की की शुक्रवार को नहीं की गयी। शाम में गैंगरेप के बाद पूरी रात लड़की को आरोपियों ने जंगल में ही रखा, आशंका है कि इस दौरान और भी कई दफा लड़की से रेप किया गया। कई बार गैंगरेप के बाद जब युवती लहुलुहान हालत में मरनासन्न हो गयी, तो युवकों ने उसके मरा मानकर पत्थर के बीच दफना दिया। लेकिन युवती की सांस चलती रही। मंगलवार को जब पुलिस पहुंची तो उस दौरान भी लड़की की सांसें चल रही थी, लेकिन अस्पताल में पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गयी।

 

 

Spread the love