comscore

युवराज सिंह का बड़ा खुलासा, कप्तान बनने की ख्वाहिशों के बीच आ गए धोनी

नईदिल्ली 10 जून 2021. युवराज सिंह ने अपने उस मलाल का खुलासा अब जाकर किया है. यानी पूरे 14 साल बाद उन्होंने अपनी चुप्पी तोड़ी है. भारत के सिक्सर किंग ने अपना दिल ए हाल 22 यार्न्स पॉडकास्ट में बताया. उन्होंने कहा कि उनका ये मलाल टीम की कप्तानी से जुड़ा है, जो पूरा नहीं हो सका क्योंकि उनकी कप्तानी की ख्वाहिशों के बीच एमएस धोनी आ गए.

22 यार्न्स पॉडकास्ट में युवराज सिंह ने कहा कि “T20 वर्ल्ड कप से सीनियर प्लेयर आराम चाहते थे. वो इस टूर्नामेंट को सीरियसली नहीं ले रहे थे. ऐसे में मैं उम्मीद कर रहा था कि T20 वर्ल्ड कप की कप्तानी मुझे सौंपी जाएगी. लेकिन फिर बतौर कप्तान एमएस धोनी के नाम की घोषणा कर दी गई.”

युवराज के लिए एमएस धोनी को कप्तान बनाए जाने का फैसला हैरानी वाला जरूर था, लेकिन इससे उनके और धोनी के रिश्तों में कोई कड़वाहट नहीं घुली. युवराज ने एक टीम मैन की तरह धोनी को सपोर्ट किया. 39 साल के पूर्व भारतीय ऑलराउंडर ने कहा कि T20 फॉर्मेट उस वक्त बिल्कुल नया था, लिहाजा उस टूर्नामेंट को लेकर न तो हमारे पास कोई प्लान था और न ही स्ट्रेटजी. हम बस अपनी समझ से खेले और इस फॉर्मेट के पहले चैंपियन बनकर उभरे.

Spread the love