npg

बिग ब्रेकिंगः सीएम बदलेंगे….? 40 विधायकों के आलाकमान को लेटर भेजने के बाद कांग्रेस ने बुलाई विधायक दल की बैठक, मुख्यमंत्री ने भी अपने समर्थकों को 2 बजे बुलाया

नईदिल्ली 18 सितम्बर 2021. पंजाब की सियासत से एक बड़ी खबर आ रही है….पार्टी आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई है। उधर, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने समर्थक विधायकों की दो बजे बैठक बुलाई है। प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के समर्थक 40 विधायकों ने मुख्यमंत्री के खिलाफ आलाकमान को पत्र भेजकर विधायक […]

Spread the love

बिग ब्रेकिंगः सीएम बदलेंगे….? 40 विधायकों के आलाकमान को लेटर भेजने के बाद कांग्रेस ने बुलाई विधायक दल की बैठक, मुख्यमंत्री ने भी अपने समर्थकों को 2 बजे बुलाया
X

नईदिल्ली 18 सितम्बर 2021. पंजाब की सियासत से एक बड़ी खबर आ रही है….पार्टी आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई है। उधर, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने समर्थक विधायकों की दो बजे बैठक बुलाई है।
प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के समर्थक 40 विधायकों ने मुख्यमंत्री के खिलाफ आलाकमान को पत्र भेजकर विधायक दल की बैठक बुलाने की मांग की थीण् इसके बाद पार्टी आलाकमान ने यह फैसला किया हैण् आज शाम 5 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक होगीण् इस बैठक में केंद्रीय पर्यवेक्षक के तौर पर अजय माकन और हरीश चौधरी भी मौजूद रहेंगे. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आलाकमान को बागी कैंप की चिट्ठी के बाद ये मीटिंग बुलाई गई है. सूत्रों के मुताबिक इस मीटिंग में कैप्टन विरोधी कैंप सीएम अमरिंदर सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव की तैयारी में है. इसके लिए बागी गुट तमाम विधायकों से पिछले कई दिनों से संपर्क में है.
पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह की कुर्सी पर खतरा मंडरा रहा है….ऐसा इसलिए कहा जा हरा है क्योंकि 40 विधायकों ने पार्टी आलाकमान को पत्र लिखा है. विधायकों के द्वारा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे पत्र में दो केंद्रीय पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में जल्द से जल्द विधायक दल की बैठक बुलाने की मांग की गई थी. इसे लेकर पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने ट्वीट किया है जिसमें कहा गया है कि इस बैठक में केंद्रीय पर्यवेक्षक के तौर पर अजय माकन और हरीश चौधरी भी मौजूद रहेंगे और पूरी रिपोर्ट तैयार कर हाईकमान को भेजेंगे.

कांग्रेस की पंजाब इकाई में जारी तनातनी के बीच अखिल भारतीय कांग्रेस समिति (एआईसीसी) ने शनिवार को राज्य के कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई है. एआईसीसी के महासचिव एवं पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत ने बीती रात को इस बारे में जानकारी दी. बताया जा रहा है कि आज शाम बुलाई गई बैठक में हरीश रावत, अजय माकन और हरीश चौधरी भी मौजूद रहेंगे.

हरीश रावत ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि कांग्रेस के अनेक विधायकों ने एआईसीसी से पंजाब कांग्रेस विधायक दल की बैठक तत्काल बुलाने का अनुरोध किया है. इसी क्रम में पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यालय में 18 सितंबर को शाम पांच बजे विधायक दल की बैठक बुलाई गई है. पंजाब कांग्रेस के सभी विधायकों से बैठक में शामिल होने का अनुरोध करता हूं.

इस ट्वीट पर गौर करें तो रावत ने इसे कांग्रेस नेता राहुल गांधी, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू को भी टैग करने का काम किया है. इसके बाद सिद्धू ने शुक्रवार रात को ट्विटर पर लिखा कि एआईसीसी के निर्देश पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यालय में 18 सितंबर 2021 को शाम पांच बजे बुलाई गई है.

कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाए जाने की सूचना मिलते ही सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी अपने करीबी विधायकों को सिसवां फार्म हाउस पर बैठक के लिए बुला लिया है. इसे देखते हुए माना जा रहा है कि कैप्टन ये स्ट्रैटजी बनाने में जुटे हैं कि अगर बागी ग्रुप अविश्वास प्रस्ताव लाता है तो उससे कैसे निपटा जाएगा.

आपको याद हो तो पिछले महीने, राज्य के चार मंत्रियों और अनेक विधायकों ने मुख्यमंत्री के खिलाफ असंतोष के स्वर उठाए थे. इसमें कहा था कि उन्हें अब इस बात का भरोसा नहीं है कि अमरिंदर सिंह में अधूरे वादों को पूरा करने की क्षमता है.

कहा जा रहा है कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में बागी विधायकों की बात सुनी जाएगी और बागियों के रुख को देखकर साफ है कि इसके जरिए कैप्टन के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी की जा रही है. बागी ग्रुप की तरफ से हरीश रावत पर भी सवाल उठाए जा रहे थे, ऐसे में आज की बैठक के लिए दो पर्यवेक्षक भेजे जा रहे हैं, ताकि बाद में किसी को सवाल उठाने का मौका न मिल सके.

Next Story