बिग ब्रेकिंग : अमित के आरोपों पर CM भूपेश का जवाब…. मरवाही अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित सीट….चुनाव वही लड़ेगा जिसके बाद सर्टिफिकेट होगा, ऐसे ही कोई चुनाव थोड़े लड़ेगा….अमित ने लगाया था राज्य सरकार पर ये आरोप …

रायपुर 16 अक्टूबर 2020। मरवाही चुनाव नहीं लड़ने देने को लेकर अमित जोगी के आरोपों पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जवाब दिया है। मरवाही दौरे पर रवाना होने से पहले पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव को लेकर चुनाव आयोग के दिशा निर्देश बने हुए हैं। मरवाही चुनाव को भी आयोग के निर्देश के अनुरूप काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि

“मरवाही अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित सीट है, इस आरक्षित सीट पर वही चुनाव लड़ेगा जो आदिवासी होगा, जिसके पास अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र होगा, ऐसे ही किसी को थोड़े ही लड़ने दे दिया जायेगा और इस पर चुनाव आयोग के दिशा निर्देश बने हुए हैं, आयोग इस पर अपनी कार्रवाई करेगा”

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मरवाही के विकास कामों को लेकर उठे सवालों का भी जवाब दिया। उन्होंने कहा कि मरवाही में पिछले 15 सालों तक कोई काम नहीं हुआ, कांग्रेस सरकार बनने के बाद वहां विकास काम की शुरुआत की गयी है। आपको बता दें कि आज कांग्रेस प्रत्याशी डॉ केके ध्रुव अपना नामांकन भरने वाले हैं। उनके नामांकन में ही भाग लेने के लिए मुख्यमंत्री सहित तमाम दिग्गज मरवाही पहुंच रहे हैं।

आपको बता दें कि कल अमित जोगी की पत्नी रिचा जोगी का जाति प्रमाण पत्र मुंगेली कलेक्टर के द्वारा निलंबित कर दिया गया था। साथ ही इस बात का निर्देश दिया गया था कि जब तक इस मामले में हाई पावर कमेटी का फैसला नहीं आ जाता, तब तक इस प्रमाण पत्र का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। इस कार्रवाई के बाद अमित जोगी ने आरोप लगाया था कि उन्हें सरकार हर हाल में चुनाव लड़ने से रोकने देना चाहती है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.