स्नातक युवाओं को सुनिश्चित रोज़गार के लिए भूपेश सरकार की अनूठी योजना.. E श्रेणी में नि:शुल्क ठेकेदार लायसेंस और बीस लाख तक का काम.. दिसंबर के पहले हफ़्ते लागू होगी योजना

रायपुर,22 नवंबर 2020। ग्रामीण क्षेत्र के वे युवा जो स्नातक हैं और रोज़गार जिनके लिए सबसे अहम और सर्वोच्च प्राथमिकता है उनके लिए भूपेश सरकार अनूठी योजना क्रियान्वित करने जा रही है।
इस योजना के तहत लोक निर्माण विभाग से स्नातक युवक को निःशुल्क ठेकेदारी लायसेंस मिलेगा, यह लायसेंस ई श्रेणी का होगा। इस ई श्रेणी में अधिकतम बीस लाख तक के काम स्वीकृत किए जाएँगे। इस योजना की विशेषता यह भी है कि, जिस ब्लॉक ( विकासखंड ) के लिए काम निकलेंगे, उन्हीं ब्लॉक के स्नातक बेरोज़गार युवाओं को काम दिया जाएगा।

योजना में यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि ई श्रेणी के इन युवाओं के काम को दिगर श्रेणियों के ठेकेदार नही करें। उल्लेखनीय है कि अभी ठेकेदारों की चार कैटेगरी है,A,B,C,D। ई श्रेणी के लिए जो भी काम खोले जाएँगे उनमें अन्य श्रेणियों के पात्रता धारी ठेकेदार काम नही कर पाएँगे।इन चार प्रमुख श्रेणियों में लायसेंस बनाने के लिए शुल्क भी लगता है, लेकिन इस योजना के तहत ई श्रेणी का लायसेंस निःशुल्क बनेगा।

लोक निर्माण विभाग जिसके अंतर्गत यह योजना क्रियान्वित की जानी है, उसने क़रीब 250 करोड़ के काम की तैयारी कर रखी है।
दिसंबर के पहले हफ़्ते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस योजना की औपचारिक शुरुआत करेंगे।प्रदेश की यह योजना यदि सफल हो गई तो कई राज्यों के लिए रोल मॉडल बन जाएगी।
प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू इस योजना को लेकर बेहद आशान्वित है। उन्होंने NPG से कहा –

“यह योजना प्रदेश के कई हज़ार बेरोज़गारों को सुनिश्चित रोज़गार देगी, विभाग की ओर से इस ओर पूरी कसावट भी की गई है ताकि योजना में कोई चूक ना हो।”

मंत्री ताम्रध्वज साहू ने छत्तीसगढ़ी में कुछ यूँ बात पूरी की –

“युवा करही स्वरोज़गार के काम.. आत्मनिर्भर होके बनाही खुद के नाम”

Spread the love