कोरोना से ठीक होने वाले हो जाये सावधान…दोबारा हो सकता है संक्रमण, बचने के लिए बरतें ये सावधानियां…

रायपुर 17 सितम्बर 2020 विशेषज्ञों का कहना है कि हाल ही में कोरोना वायरस संक्रमण के दोबारा होने के कई मामले सामने आए हैं, ऐसे में कोरोना वायरस से ठीक हो चुके लोगों को काफी सावधानी बरतने की जरूरत है। शोध में यह बात सामने आ चुकी है कि कोरोना वायरस का संक्रमण एक बार ठीक होने के बाद दोबारा भी हो सकता है।

क्या बोले विशेषज्ञ-
एम्स के मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर ने बताया कि कोरोना से ठीक होने वाले सभी लोगों के शरीर में पर्याप्त एंटीबॉडी नहीं मिलते हैं। यह हर व्यक्ति की प्रतिरोधक क्षमता पर निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों का शरीर इस तरह से प्रतिक्रिया करता है कि उनके शरीर में ठीक होने के बाद एंटीबॉडी पर्याप्त मात्रा में नहीं बनते या फिर एंटीबॉडी 50 से 60 दिन में ही आधे होने लगते हैं।

एंटीबॉडी कब तक रह सकती हैं-
एम्स के प्रोफेसर का कहना है कि अभी तक एंटीबॉडी बनने यानी शरीर में कोरोना के खिलाफ कब तक लड़ने की क्षमता विकसित हुई है इस पर कई शोध हुए हैं। कुछ शोध के मुताबिक 70 से 90 दिनों तक शरीर में कोरोना से लड़ने वाले एंटीबॉडी बचे हो सकते हैं। उन्होंने एक अन्य शोध के हवाले से कहा कि एंटीबॉडीज 50 से 60 दिनों में आधे हो जाते हैं।

45 से 50 दिनों के अंदर ही कम होने लगे एंटीबॉडी-
-मुंबई एक एक अस्पताल में हुए एक शोध के मुताबिक कोरोना से ठीक हुए 34 लोगों पर हुए शोध में पाया गए कि एंटीबॉडी 45 से 50 दिनों में ही कम होने लगती हैं।
-तीन सप्ताह पहले कोरोना संक्रमित पाए गए 90% लोगों के शरीर में एंटीबॉडीज पायी गयी। वहीं पांच सप्ता पहले संक्रमित पाए गए 38.5 फीसदी लोगों के शरीर में एंटीबॉडीज पायी गयी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.