बिग ब्रेकिंग : बस्तर का बेटा भी शहीद ….घर पर चल रही थी शादी की तैयारी….और आ गयी शहादत की मनहूस खबर…..भारत-चीन सीमा पर 20 शहीदों में कांकेर का गणेश भी…. 18 साल की उम्र में शामिल हुआ था सेना में

रायपुर 17 जून 2020। भारत-चीन बार्डर पर लद्दाख के गालवान घाटी में बस्तर का बेटा भी शहीद हुआ है। मंगलवार की रात भारतीय सेना के 20 जवानों की शहीद होने की खबर सुनायी, उसमें कांकेर का गणेशराम कुंजाम भी शामिल हैं। महज 27 साल के गणेश राम की 1 महीने पहले ही भारत के लागवान घाटी में पोस्टिंग हुई थी। बेहद ही गरीब परिवार का बेटा 12वीं की पढ़ाई पूरी करने के बाद आर्मी ज्वाइन किया था। जानकारी के मुताबिक सोमवार की रात हुई हिंसक झड़प में गणेश राम बुरी तरह से घायल हो गया था, जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती गया था, जहां उसकी मौत हो गयी।

शहादत की खबर पर गणेश राम कुंजाम के घर मातम पसर गया है। घरवालों का रो-रो कर बुरा हाल है। गणेश  कांकेर जिले के चारामा ब्लाक के क़ुर्रूटोला गांव गिधाली का रहने वाला था। शहीद जवान के चाचा तिहारूराम कुंजाम ने बताया कि 1 महीने पहले गणेश से फोन पर बात हुई थी, तब उसने जानकारी दी थी कि उसकी पोस्टिंग चीन बोर्डर पर हो गयी है और वो वहीं जा रहा है।

घरवालों की तरफ से कई बार उसे फोन कर बात करने की कोशिश की गयी, लेकिन उससे संपर्क नहीं हो सका और फिर अचानकर से मंगलवार की दोपहर परिवारवालों को सेना की तरफ से बताया गया कि गणेश राम ने वीरगति पायी है। सेना के अफसरों ने जवान के चाचा तिहारूराम कुंजाम को बताया है कि गुरुवार की शाम तक शहीद जवान का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव में भेजा जायेगा।

शादी की तैयारी हो रही थी शहीद जवान की 

27 साल का गणेश जब पिछली दफा घर आया था, तभी उसकी शादी फाइनल हो गयी थी। घरवाले शादी की तैयारी भी कर रहे थे। हालांकि कोरोना की वजह से शादी की डेट फाइनल नहीं हुई थी, लेकिन घरवालों ने अपने तरह से शादी की तैयारी शुरू कर रखी थी। कोरोना के बाद वो कांकेर आने भी आने वाला था, तब उसी दौरान उसकी शादी की भी तैयारी थी, लेकिन शादी के पहले ही मौत की मनहूस खबर आ गयी।

 

 

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.