comscore

बाहुबली शहाबुद्दीन की कोरोना से मौत….. तिहाड़ जेल में थे बन्द, कोरोना के बाद वेंटिलेटर पर थे….जानिए शहाबुद्दीन के बारे में

पटना 1 मई 2021। बिहार के सीवान जिले से सांसद रहे बिहार के बाहुबली नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन का दिल्ली के अस्पताल में कोरोना से निधन हो गया. शहाबुद्दीन  कई मामलों में सजा काट रहे थे और दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद थे. जेल में ही वे कोरोना से संक्रमित हुए थे और संक्रमित होने के बाद उनकी हालत गम्भीर हो गई थी जिसके बाद उन्हें  दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया.

हालत बिगड़ने के बाद वेंटिलेटर पर रखे गए थे शहाबुद्दीन

दरअसल तिहाड़ जेल प्रशासन को बिहार के बाहुबली और RJD के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन के कोरोना संक्रमित होने का पता तब लगा जब, 20 अप्रैल को उसकी हालत अचानक बिगड़ने लगी। जिस तरह के उसके शरीर में लक्षण नजर आए, उसके मद्देनजर कोरोना संक्रमण की जांच कराई गई। रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही शहाबुद्दीन को तुरंत तिहाड़ जेल के चिकित्सकों की निगरानी में दे दिया गया।इसके बाद भी शहाबुद्दीन की हालत नहीं सुधरी और उन्हें वेंटिलेटर पर शिफ्ट करना पड़ा। कल से ही उनकी तबीयत और बिगड़ने लगी और आज यानि 1 मई को शहाबुद्दीन ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

जानिए RJD के बाहुबली शहाबुद्दीन के बारे में


बाहुबली शहाबुद्दीन को सीवान के लोग खौफनाक तेजाब कांड को लेकर भी याद करते हैं। साल 2004 में चंदा बाबू के तीन बेटों गिरीश, सतीश और राजीव का बदमाशों ने अपहरण कर लिया। बदमाशों ने गिरीश और सतीश को तेजाब से नहला कर मार दिया था। जबकि इस मामले का चश्मदीद रहे राजीव किसी तरह बदमाशों की गिरफ्त से अपनी जान बचाकर भाग निकला। बाद में राजीव भाइयों के तेजाब से हुई हत्याकांड का गवाह बना। मगर 2015 में शहर के डीएवी मोड़ पर उसकी भी गोली मार कर हत्या कर दी गई। हत्या के महज 18 दिन पहले ही राजीव की शादी हुई थी। इस घटना के बाद पूरे शहर में हड़कंप मच गया था।

 

 

Spread the love