SBI ग्राहकों के लिए बुरी खबर, आज से एफडी पर इतना कम मिलेगा ब्याज… जानिए दो करोड़ से कम की एफडी पर आपको कितना ब्याज मिलेगा

नईदिल्ली 28 मार्च 2020। लॉकडाउन के बीच देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने होम या कार लोन की ब्याज दर कम कर दी है। लेकिन आपकी बचत पर भी कैंची चलाई है. जी हां, एसबीआई ने खुदरा और एकमुश्त जमा राशि यानी FD पर ब्याज दर कम कर दी है। नई दरें आज से यानी 28 मार्च 2020 से लागू हो गई हैं। इससे पहले एसबीआई ने 10 मार्च को भी एफडी पर मिलने वाले ब्याज में कमी की थी।

रिटेल टर्म डिपॉजिट की ब्याज दर में 20 से 50 आधार अंकों की कमी की गई है। वहीं एकमुश्त बड़ी राशि की सावधि जमा की ब्याज दर में 50 से लेकर 100 आधार अंकों तक की कटौती की गई है।

ये है नई ब्याज दर :

7-45 दिन – 3.5%
46-179 दिन – 4.5%
180-210 दिन- 5%
211 दिन-1 साल से कम – 5%

आइए जानते हैं कि दो करोड़ से कम की एफडी पर आपको कितना ब्याज मिलेगा। 

अवधि आम नागरिकों के लिए नई दर (28 मार्च 2020 से) वरिष्ठ नागरिकों के लिए नई दर (28 मार्च 2020 से)
सात से 45 दिन 3.5 फीसदी 4.00 फीसदी
46 से 179 दिन 4.5 फीसदी 5.00 फीसदी
180 से 210 दिन 5.00 फीसदी 5.50 फीसदी
211 से एक साल 5.0 फीसदी 5.50 फीसदी
एक साल से दो साल 5.70 फीसदी 6.20 फीसदी
दो साल से तीन साल 5.70 फीसदी 6.20 फीसदी
तीन साल से पांच साल  5.70 फीसदी 6.20 फीसदी
पांच साल से 10 साल 5.70 फीसदी 6.20 फीसदी

शुक्रवार को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 75 आधार अंकों की कटौती की। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) के छह में से चार सदस्यों ने रेट कट के पक्ष में वोट किया। रेपो रेट 5.15 फीसदी से घटकर 4.40 फीसदी हो गई है। इससे सभी तरह के कर्ज सस्ते होंगे। इसके बाद ही एसबीआई ने एफडी की ब्याज दर में कटौती का एलान किया।

बीते कुछ सालों में लगभग हर बैंक ने एफडी की ब्याज दरों में कटौती की है.एफडी पर ब्याज दर कटौती का सबसे अधिक नुकसान सीनियर सिटीजन का होता है. दरअसल, ये वर्ग एफडी की ब्याज आय पर निर्भर रहता है.

ऐसे चुनें सही एफडी

  • बैंक हर अवधि की एफडी पर अलग ब्याज दर देते हैं। निवेश के लक्ष्य को देखकर सही अवधि और ज्यादा ब्याज दर चुनें।
  • पैसे लगाने से पहले बैंक की साख को परखें और क्रिसिल, इक्रा पर रेटिंग की जांच करें।
  • भुगतान के तरीकों की जानकारी लें। बैंक संचयी एफडी में ब्याज दर का भुगतान परिपक्वता अवधि पर ही करते हैं। गैर संचयी एफडी पर ब्याज का भुगतान विकल्प के तहत तिमाही, छमाही या सालाना हो सकता है।

आइए जानते हैं ऑनलाइन एसबीआई एफडी खाता खोलने का तरीका क्या है

  • सबसे पहले आपको एसबीआई (SBI) की नेट बैंकिंग वेबसाइट पर आईडी-पासवर्ड डालकर लॉगइन करना होगा।
  • अब फिक्स्ड डिपॉजिट विकल्प में जाकर आपको e-TDR/e-STDR (FD) पर क्लिक करना होगा। यहां टीडीआर का अर्थ है टर्म डिपॉजिट और एसटीडीआर यानी स्पेशल टर्म डिपॉजिट।
  • अब एफडी का प्रकार चुनकर आपको प्रोसीड पर क्लिक करना होगा।
  • ध्यान रहे कि अगर आपके पास एक से अधिक बैंक खाता है, तो आपको उस खाते पर क्लिक करना होगा, जिसका पैसा आप ट्रांसफर करना चाहते हैं।
  • अब एफडी प्रिंसिपल वैल्यू का चयन कर ‘अमाउंट’ कॉलम भरें। इसके साथ ही आपको जमा की अवधि को भी चुनना होगा।
  • इसके बाद ग्राहकों को ऑटो-रिन्यू प्रिंसिपल एंड इंटरेस्ट, या ऑटो रिन्यू प्रिंसिपल एंड रि-पे इंटरेस्ट या रि-पे प्रिंसिपल एंड इंटरेस्ट में से किसी विकल्प को चुनना होगा।
  • बाद में ग्राहकों को इसे सबमिट करना होगा, जिसके बाद उनका एफडी खाता खुल जाएगा। खाता खुलने के बाद ग्राहकों को एफडी की जानकारी दिखाई देगी।
  • नोट: एफडी खाता खोलने के बाद ग्राहक ट्रांजेक्शन नंबर को नोट कर लें। हो सके तो इसका प्रिंट भी निकाल लें।
Spread the love
error: Content is protected By NPG.NEWS!!