11 साल से फेल हो रहे गिरफ्तार इंजीनियरिंग स्टूडेंट के कई पुलिस अधिकारी भी फॉलोवर्स, एंजल निशा आईडी में 10 हजार से अधिक लोग जुड़े हुए

रायपुर, 18 अप्रैल 2020। रायपुर पुलिस ने जिस रवि पुजार को युवती की तस्वीर वाली निशा ज़िंदाल की आईडी बनाकर लोगों के बीच सांप्रदायिक वैमनस्यता बढ़ाने के आरोप में गिरफ़्तार किया है, उसे लेकर पुलिस को कई दिलचस्प जानकारियां मिल रही हैं।
11 बरसे से इंजीनियरिंग की सेमेस्टर पढाई में पासिंग मार्क को तरस रहे रवि पुजार की फ़र्ज़ी आईडी में दस हज़ार से ज़्यादा फ़ॉलोअर हैं। इनमें कई पुलिस अधिकारी भी हैं। पुजार ने बेहद खूबसूरत युवती निशा जिंदाल नाम के फर्जी आईडी से फेसबुक बनाया था। इस ग्रुप में लोगों ने ऐसी बातें लिखी है कि उसे खबर में नहीं लिखी जा सकती। इनमें राजधानी के कुछ पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं।
राजधानी के कबीर नगर निवासी इस युवक की आईडी में फ्रेंड लिस्ट ओपन नहीं है, लेकिन यदि पोस्ट के शब्द और उस पर आए कमेंट देखें तो समझ आता है कि उसकी फ़र्ज़ी आईडी के दीवाने और उस एंजल निशा को लेकर दीवानगी किसी समुद्री तूफ़ान से भी ज़्यादा थी।
एंजल निशा ज़िंदाल की आईडी में रवि पुजार ने खुद को एक नन्ही बच्ची की उस माँ के रुप में पेश किया, जिसे कि वह सिंगल मदर के रुप में पाल रही है। यह सिंगल मदर पोर्टफ़ोलियो और खुबसूरत चेहरे ने तूफ़ान मचाया था।

 

साम्प्रदायिक और भड़काऊ पोस्ट करने वाला आईटी इंजीनियर गिरफ्तार…फेसबुक पर एक्ट्रेस की फ़ोटो लगाकर कर रहा था विवादित पोस्ट…..

Spread the love