npg

अरपा बौराई सौ परिवार राहत शिविर शिफ़्ट : निचली बस्तियों में पहुँची बिफ़री अरपा.. सौ परिवारों को राहत शिविरों में किया गया शिफ़्ट.. कलेक्टर सारांश और मेयर रामशरण मौक़े पर

बिलासपुर,16 सितंबर 2021। लगातार हो रही बारिश के बीच अरपा भैसांझर बांध से पानी छोड़े जाने से अरपा के जल स्तर में ऐसी वृद्धि हुई कि बौराई अरपा नदी किनारे मौजुद निचली बस्तियों में जा घुसी, प्रशासन ने क़रीब सौ परिवारों को राहत शिविरों में शिफ़्ट किया है। लगातार होती बारिश ने अरपा के ताप […]

Spread the love

अरपा बौराई सौ परिवार राहत शिविर शिफ़्ट : निचली बस्तियों में पहुँची बिफ़री अरपा.. सौ परिवारों को राहत शिविरों में किया गया शिफ़्ट.. कलेक्टर सारांश और मेयर रामशरण मौक़े पर
X

बिलासपुर,16 सितंबर 2021। लगातार हो रही बारिश के बीच अरपा भैसांझर बांध से पानी छोड़े जाने से अरपा के जल स्तर में ऐसी वृद्धि हुई कि बौराई अरपा नदी किनारे मौजुद निचली बस्तियों में जा घुसी, प्रशासन ने क़रीब सौ परिवारों को राहत शिविरों में शिफ़्ट किया है। लगातार होती बारिश ने अरपा के ताप को बढ़ाया हुआ है। कलेक्टर सारांश मित्तर अपनी प्रशासनिक टीम के साथ लगातार सक्रिय हैं जबकि मेयर रामशरण यादव लगातार भ्रमण कर रहे हैं।
बिलासपुर निगम क्षेत्र के जोन 1,3,5,6,7 और 8 में स्कुलों और सामुदायिक भवनों को राहत शिविरों में तब्दील कर दिया गया है। जोन 1 में पंद्रह परिवार, जोन 6 के माँडना बस्ती के पचास से अधिक परिवार,जोन सात में छ परिवारों के पंद्रह लोग जबकि इसी जोन में तेरह परिवारों के 43 लोग शिफ्ट किए गए हैं।
अब से कुछ देर पहले बूटा पारा के टापू में तीन परिवारों के फँसने की सूचना पर मेयर रामशरण यादव मौक़े पर पहुँचे और कलेक्टर सारांश मित्तर को दूरभाष पर सूचित किया जिसके बाद बोट और रेस्क्यु टीम को भेजा गया है, जिन्हें निकाले जाने की क़वायद पंक्तियों के लिखे जाने तक जारी थी।
कलेक्टर सारांश मित्तर ने नागरिकों से आग्रह किया है कि जल स्तर उतरते तक नदी के आस पास ना जाएँ और सतर्क रहें साथ ही प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों का पालन करें।

Next Story