DPS के छात्र के बाद उसी इलाके से एक और छात्र गायब……शिक्षक के बेटे का सप्ताह दिन बाद भी नहीं लगा सुराग…इधर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता का बेटा हो गया गायब…अपहरण की आशंका के मद्देनजर फैली सनसनी

कवर्धा 2 जनवरी 2020। शिक्षक के बेटे के अपहरण का मामला अभी सुलझा भी नहीं था कि एक और बच्चा जिला से गायब हो गया। इधर घटना के बाद से पुलिस लगातार बच्चे की बरामदगी के लिए लगी हुई है। इससे पहले करीब एक सप्ताह पहले भी कवर्धा के सहसपुर विकासखंड से DPS में पढ़ने वाला 9वर्षीय बच्चा भी गायब हो गया था, जिसे अब तक ढूंढा नहीं जा सका है। घटना के बाद अब दुर्ग और रायपुर के साइबर एक्सपर्ट से जिले की पुलिस मदद ले रही है। सहसपुर लोहारा के बिडोरा गांव की इस घटना के बाद से गांव वाले सकते में है।

DPS के छात्र का अपहरण :….घटना के 90 घंटे बाद भी अब तक सुराग नहीं…घर के बाहर खेलते वक्त हुआ गायब…शिक्षक हैं मां-बाप दोनों… SP ने NPG से कहा…

वहीं बुधवार शाम अचानक से जिले के पिपरिया इलाके से भी एक स्कूली बच्चा गायब हो गया। बच्चा 7वीं कक्षा में पढ़ता है। उस बच्चे के गायब होने की घटना भी बिडोरा गांव से ही डोनिश राणा की तरह ही है। इधर बुधवार शाम को गायब हुए बच्चे का नाम जितेश कार्णिक है। पुलिस में मामला दर्ज करने के बाद अब पुलिस तलाश कर रही है।  जितेश की मां आंगनबाड़ी कार्यकर्ता है, जबकि पिता एक निजी स्कूल का बस चलाते हैं।

DPS के छात्र का भी नहीं मिला सुराग 

घटना सहसपुर लोहारा के बिडोरा गांव की है। बच्चे के मां और पिता दोनों एलबी शिक्षक हैं, हाल ही में शिक्षाकर्मी से संविलियन के बाद वो एलबी शिक्षक बने हैं। शिक्षक पिता का नाम कुलेश राणा बताया जा रहा है, जबकि बच्चे का नाम डोनिष कुमार राणा है। डोनिष कुमार राणा कवर्धा के डीपीएस स्कूल में पढ़ता है। घटना शाम करीब साढ़े पांच बजे के आसपास की है, बच्चा अपने घर के बाहर दोस्तों के साथ खेल रहा था, उसके बात अचानक से वो घर के बाहर से गायब हो गया। काफी खोजबीन के बाद भी जब बच्चे का कोई सुराग नहीं मिला, तो पुलिस में मामला दर्ज कराया।एसपी लाल उमैद सिंह के निर्देश पर एक टीम बनायी गयी है, जो लगातार बच्चे की  खोजबीन में लगी हुई है। वहीं गांव में अब कैंप भी लगाया गया है, ताकि सुराग के आधार पर तत्काल खोजबी शुरू की जा सके।

Spread the love