नाराज शिक्षकों ने आंदोलन का फूंका बिगुल….. वेतन विसंगति सहित अन्य मांगें पूरी नहीं होने पर 5 मार्च को होगा बड़ा ऐलान….राजधानी में बुलायी गयी बड़ी बैठक…

रायपुर 3 मार्च 2020।  कहीं दीप जले….कहीं दिल…..फिल्मी गाने के ये बोल प्रदेश के शिक्षाकर्मियों और शिक्षकों पर सटीक बैठ रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संविलियन के ऐलान ने जहां शिक्षाकर्मियों के लिए होली का मौका दीवाली बना दिया…तो वहीं वेतन विसंगति व क्रमोन्नित के खाली पिटारे ने शिक्षकों के अरमानों पर पानी फेर दिया। लिहाजा शिक्षकों का एक बड़ा वर्ग अब आंदोलन की तैयारी में जुट गया है। शिक्षक फेडरेशन अब जल्द ही बैठक कर आंदोलन की रणनीति तैयार कर रहा है। फेडरेशन की नाराजगी इस बात को लेकर है कि बजट में वेतन विसंगति और क्रमोन्नति जैसी मांगों पर सरकार ने विचार नहीं किया।

हालांकि फेडरेशन की तरफ से एक तरफ संविलियन के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया जा रहा है, तो दूसरी तरफ आंदोलन की रणनीति भी तैयार करने की बात कही जा रही है…ऐसे में फेडरेशन के रूख ने हर किसी को हैरान कर दिया है। फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा व प्रदेश सचिव ने जारी प्रेस नोट में कहा है कि कि बजट में सहायक शिक्षको की मांग पर सरकार द्वारा कोई कारगर कदम नही उठाया गया है।

जिसको ध्यान में रखते हुए आगामी रणनीति बनाने के लिए 5 मार्च को दोपहर 12 बजे कलेक्टर गार्डन में आयोजित की जायेगी। बैठक में आंदोलन की रणनीति तैयार किया जायेगा। कहा जा रहा है कि शिक्षक का एक बड़ा वर्ग सरकार पर नाराजगी जताते हुए सड़क की लड़ाई लड़ने की योजना तैयार की है। जिला अध्यक्ष समस्त प्रदेश पदाधिकारियो की उपस्थिति की अपील की गयी है।

Spread the love