अस्पताल में रहकर भी अजीत जोगी निभायेंगे इफ्तार देने की परंपरा…..विशेष अनुमति लेकर सांकेतिक रूप से आयोजित किया जायेगा कार्यक्रम… रेणु जोगी और अमित जोगी रहेंगे मौजूद

रायपुर 21 मई 2020। पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी पिछले 10 दिनों से अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं। उन्हें दवा के साथ दुआओं की भी जरूरत है, लिहाजा प्रदेश भर में उनके समर्थक और शुभचिंतकों की तरफ से धार्मिक अनुष्ठान के माध्यम से उनके स्वस्थ्य होने की कामना की जा रही है। रमजान के पाक महीने में अजीत जोगी की तरफ से हर साल बंगले में 27वें रोजा के दिन इफ्तार की दावत दी जाती थी। ऐसे मुश्किल दौर में जब एक तरफ कोरोना संकट है और दूसरी तरफ अजीत जोगी का खराब स्वास्थ्य हैं, तो भी उस परंपरा को जारी रखा गया है।

अस्पताल से विशेष अनुमति लेकर आज अस्पताल परिसर में ही सांकेतिक रूप से इफ्तार की दावत दी गयी है। इसमें चुनिंदा 10 लोगों को बुलाया गया है। मुस्लिम वर्ग के लोगों के साथ कुछ अन्य लोगों को भी बुलाया गया है। इस दौरान रेणु जोगी और अमित जोगी भी मौजूद रहेंगे। इस दौरान अजीत जोगी की सेहत की दुआ मांगी जायेगी। आज शाम करीब साढ़े छह बजे ये कार्यक्रम होगा।

आपको बता दें कि कार्डिक अरेस्ट के बाद से ही अजीत जोगी कोमा में चल रहे हैं, उनके अन्य अंग तक ठीक से काम कर रहे हैं, लेकिन मस्तिष्क की गतिविधि ना के बराबर हैं। जिसे सामान्य करने में डाक्टर जुटे हुए हैं। इस दौरान लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह, बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, पूर्व विधायक आरके राय, प्रदेश महामंत्री महेश देवांगन, जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश देवांगन, यूथ बिग्रेड के अध्यक्ष प्रदीप साहू, राहिल रउफी, समीर अहमद बबला, अजीत मनथानी सहित कई लोग मौजूद रहेंगे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.