गोबर नीति पर अजय चंद्राकर ने ट्वीट के जरिए शेयर किया अनूठा गीत- “पढ़ाई की दो क़ुर्बानी..गोबर बिनवाने की तुमसे.. सरकार ने अब है ठानी” वहीं कांग्रेस ने ट्वीट को गोवंश से नफ़रत का बताया सबूत

रायपुर, 6 जुलाई 2020। गोबर को ख़रीदे जाने का ऐलान सरकार ने किया है, किस दर पर ख़रीदी होगी इसका भी ऐलान हो गया है.. लेकिन इस योजना को लेकर सवाल भी विपक्ष ने खड़े कर दिए हैं। तेज तर्रार विधायक अजय चंद्राकर ने अपने सभी सोशल मीडिया एकाउंट पर एक गीत शेयर किया है। ट्वीटर हैंडल.. फ़ेसबुक एकाउंट और इंस्टाग्राम एकाउंट पर विधायक अजय चंद्राकर ने यह पोस्ट किया है।

विधायक अजय चंद्राकर ने गीत वाले वीडियो के साथ लिखे पोस्ट में बताया है कि छत्तीसगढ़ के नवजवानों की काव्यमय प्रस्तुति है। कुरुद विधायक अजय चंद्राकर ने ट्वीट में लिखा है –
“छत्तीसगढ़ के तथाकथित विकास की अवधारणा पर छत्तीसगढ़ के नवजवानों की काव्यमय प्रस्तुति.. “अईसे गढबो नवा छत्तीसगढ़”

जो गीत अजय चंद्राकर ने शेयर किया है.. वह एक फ़िल्मी गीत की पैरौडी है.. जिसमें गोबर योजना पर तंज है, और कहा गया है कि छोड़ो पढ़ाई गोबर बिनो।
इधर इस ट्वीट पर कांग्रेस ने तीखा पलटवार किया है। कांग्रेस प्रवक्ता आर पी सिंह ने इस ट्वीट को गौ वंश और युवाओं को लेकर भाजपा की सोच का प्रमाण बताया है। आर पी सिंह ने NPG से कहा

“गौ वंश से अजय चंद्राकर और भाजपा को जो गहरी नफ़रत है उसके उद्गार भी इस कविता के माध्यम से प्रकट हो रहे हैं.. ख़ैर ठीक भी है जिस पार्टी के शासनकाल में भाजपा के नेता द्वारा संचालित शगुन गौशाला में सैकड़ों की संख्या में गायों की हत्या कर के उनका मांस चमड़े हड्डियों का कारोबार होता रहा हो ऐसे लोगों के मन में गौ वंश के प्रति प्रेम कहाँ से आएगा।जहां तक बालकों की लिखाई पढ़ाई की बात है चंद्राकर जी बताएँ कि पंद्रह बरस के कार्यकाल में कितने सरकारी अंग्रेज़ी स्कुल आपने प्रारंभ किए और शिक्षा की बेहतरी के लिए क्या प्रयास किए.. जिस सरकार का मुखिया ही पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति में स्वीकार कर चुका हो कि उनकी सरकार कमीशनखोर थी उनके बारे में और क्या टिप्पणी करें ? सवाल यह भी है कि गौ वंश से नफ़रत के जो विचार अजय चंद्राकर के हैं क्या वहीं विचार डॉ रमन सिंह धर्मलाल कौशिक और विष्णु देव साय के भी हैं “

Spread the love
error: Content is protected By NPG.NEWS!!