अजब फरमान : मुख्यमंत्री के काफिले में सांड को रोकने इंजीनियरों की लगायी गयी ड्यूटी….विभाग ने लिखित आदेश जारी कर कहा- रस्सी के साथ सड़क किनारे रहें तैनात….CM के दौरे से पहले जिला प्रशासन के फरमान से अफसर हैरान-परेशान

लखनऊ 28 जनवरी 2020। यूपी में अफसरों को मिले एक फरमान सभी को हैरान परेशान कर दिया है। दरअसल प्रदेश के इंजीनियरों की ड्यूटी सांडों को बांधने के लिए लगा दी गयी है। इसके लिए बकायदा लिखित आदेश जारी कर इंजीनियरों को रस्सी के साथ तैनात रहने को कहा गया है, ताकि जहां गाय, बैल और सांड दिखे, उसे तत्काल उसी रस्सी से बांध दिया जाये।

मामला उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर का है, जहां 29 जनवरी को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आना है।  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के रास्ते में गाय या सांड न आ जाएं, इसलिए मिर्जापुर में खास इंतजाम किए जा रहे हैं.

दरअसल, 29 जनवरी को उत्तर प्रदेश में जारी गंगा यात्रा में हिस्सा लेने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मिर्जापुर पहुंच रहे हैं. उनकी यात्रा के दौरान सड़क पर गाय या सांड न आ जाएं, इसके लिए पीडब्ल्यूडी जूनियर इंजीनियर्स की तैनाती की गई है.मिर्जापुर के अलग-अलग स्थानों पर 9 इंजीनियर्स मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यात्रा के दौरान हाथों में रस्सी लेकर तैनात रहेंगे.गंगा यात्रा को हर जिले में केंद्रीय मंत्री और योगी सरकार के मंत्री आगे बढ़ाएंगे. 27 से 31 जनवरी तक चलने वाली इस यात्रा का समापन कानपुर में होगा.

 

cow_012820090840.png

पीडब्ल्यूडी विभाग के अधिशासी अभियन्ता की ओर से सोमवार को जारी इस आदेश में कहा गया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यात्रा के दौरान पुलिस लाइन मिरजापुर से बिरोही तक 9 अवर अभियन्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है. इन अवर अभियन्ताओं को अपने लोगों (गैंग) के साथ 29 जनवरी को 8 से 10 रस्सी लेकर निर्धारित अपने-अपने कार्यस्थल पर उपस्थित रहने को कहा गया है.

Spread the love