comscore

इंग्लैंड की हार के बाद सुनील गावस्कर ने दिया करारा जवाब…

नईदिल्ली 26 फरवरी 2021. नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में खेला गया डे-नाइट टेस्ट मैच महज दो दिन में खत्म हो गया. पिंक बॉल से हुए इस मुकाबले में मेजबान भारतीय टीम ने इंग्लैंड को 10 विकेट से मात दी. भारत को जीत के लिए 49 रन का लक्ष्य मिला था. इस जीत के साथ ही चार मैच की टेस्ट सीरीज में कोहली सेना को 2-1 की अहम बढ़त भी मिल गयी. इसके साथ ही, जून में होनेवाली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के लिए भारत मजबूत दावेदार हो गया है.

भारत के हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) सहित कई पूर्व खिलाड़ियों ने गुरुवार को कहा कि नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम की टर्निंग पिच टेस्ट क्रिकेट के लिए आदर्श नहीं है, लेकिन दिग्गज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar ) की राय इसके विपरीत है. गावस्कर ने कहा कि बल्लेबाजों ने बेहद रक्षात्मक रवैये के कारण अपने विकेट गंवाये और उनमें से अधिकतर सीधी गेंदों पर आउट हुए. पूर्व बल्लेबाज लक्ष्मण ने कहा कि यह टेस्ट मैच के लिए आदर्श पिच नहीं थी. वहीं केविन पीटरसन ने कहा कि एक मैच के लिए ठीक है, आगे ऐसा विकेट नहीं देखना चाहता हूं.

कप्तान कोहली ने टर्निंग पिच का बचाव किया और कहा : दो दिन में मैच खत्म होने के लिए पिच जिम्मेदार नहीं थी, बल्कि दोनों टीमों के बल्लेबाजों का प्रदर्शन खराब था.

रूट ने पहली बार टेस्ट पारी में 5 विकेट झटके : रूट 37 साल बाद एक पारी में 5 विकेट लेने वाले पहले इंग्लिश कप्तान बन गये हैं. इससे पहले जुलाई 1983 में बॉब विलिस ने यह कारनामा किया था. विलिस ने लीड्स टेस्ट में न्यूजीलैंड के खिलाफ 35 रन देकर 5 विकेट झटके थे. करियर में रूट ने पहली बार पांच विकेट झटके हैं.

18 विकेट झटके भारतीय स्पिनरों ने मैच के दौरान इंग्लैंड की दोनों पारी में. इस मैच में विराट कोहली टॉस हार गये थे. टर्निंग ट्रैक पर टॉस हारने का मतलब मैच हारना माना जाता है, लेकिन हमारे स्पिनर्स अक्षर पटेल और रविचंद्रन अश्विन ने ऐसा नहीं होने दिया. इन दोनों ने मोटेरा की मुश्किल पिच पर इंग्लैंड के बल्लेबाजों को बिल्कुल ही नहीं टिकने दिया. अक्षर ने 11 और अश्विन ने 7 विकेट लिये. तीसरे स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर ने एक विकेट लिया

Spread the love