VIDEO: राजधानी पुलिस की दिल छू लेने वाली तस्वीर :…पेट्रोलिंग के दौरान लेडी DSP को बेहोश मिले बुजुर्ग….फिर देखिए डीएसपी ने क्या किया

रायपुर 3 अप्रैल 2020। लॉकडाउन के दौरान एक तरफ जहां पुलिस का सख्त अंदाज दिख रहा है…तो दूसरी तरफ कुछ ऐसी कुछ दिल को छू लेने वाली तस्वीरें भी सामने आ रही है, जिसने वर्दी को लेकर दिल में सम्मान भर दिया है। देश भर से आ रही पुलिस के कई मानवीय चेहरों के बीच एक तस्वीर राजधानी रायपुर से भी आयी है। जहां लॉकडाउन के दौरान समान खरीदने निकले बुजुर्ग के अचानक बेहोश हो जाने के बाद डीएसपी मीता पवार ने सिर्फ बुजुर्ग का प्राथमिक उपचार किया, बल्कि उन्हें अस्पताल पहुंचाया और साथ रखे समानों को उनके घर पर सुरक्षित पहुंचाया।

राजधानी पुलिस के मानवीय चेहरे को दिखाती जो कहानी हम आपको बताने जा रहे हैं, वो गंज थाना क्षेत्र के अरिहंत कांप्लेक्स की है …दरअसल लॉकडाउन के दौरान रायपुर में पदस्थ डीएसपी मीता पवार पेट्रोलिंग पर थी, इसी दौरान उन्होंने अरिहंत कांप्लेक्स के सामने एक बुजुर्ग को बेसुध पड़े देखा। देखते ही उन्होंने तुरंत ही अपनी गाड़ी रूकवायी और बुजुर्ग के पास पहुंची।

बुजुर्ग बेहोश पड़े थे और उनके सामने उनकी गाड़ी व सामान भी पड़ा था। उसके बाद आनन-फानन में डीएसपी मीता ने तुरंत एंबुलेंस को कॉल किया और एंबुलेंस आने तक बुजुर्ग की प्राथमिक उपचार की। शुगर की कमी की संभावना के मद्देनजर चॉकलेट खिलाया और पानी छिड़का, जिसके बाद कुछ देर बार बुजुर्ग होश में आ गये। होश में आने के बाद उन्हें तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया गया, वहीं बुजुर्ग को आश्वस्त किया कि वो अपना इलाज करायें, उनका समान उनके बताये पता पर भेज दिया जायेगी। अब खबर ये है कि बुजुर्ग की तबीयत पूरी तरह से ठीक है और डाक्टर उन्हें डिस्चार्ज भी करने वाले हैं।

NPG से इस बाबत डीएसपी मीता ने कहा…

“मैंने गश्त के दौरान बुजुर्ग को देखा, वहीं उन्हें जो सपोर्ट दी जा सकती थी, देने की कोशिश की और फिर अस्पताल भेजा। मैं अपनी ड्यूटी में थी और ये भी मेरे ड्यूटी का ही हिस्सा था, पुलिस का काम सुरक्षा देना है, लेकिन उनलोगों की सहायता करनी भी हमारी जिम्मेदारी है, जो परेशान हैं, मुश्किलों में हैं, अच्छी बात है कि मैंने सपोर्ट किया और अब वो बुजुर्ग पूरी तरह ठीक हैं”

Spread the love