गोबर पर सियासी जंग…राहुल को ब्रांड एंबेसडर बनाने बीजेपी के ट्वीट पर मंत्री अमरजीत भड़के, विनोद वर्मा बोले…दृष्टि में दकियानुसिपन है, बीजेपी नेता ओपी चौधरी ने इस बात के साथ गोबर खरीदने का किया स्वागत

रायपुर, 10 जुलाई 2020। किसानों से गोबर खरीदी के भूपेश सरकार के फैसले पर सियासत शुरू हो गई है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव पी मुरलीधर राव ने ट्वीट कर कहा कि राहुल गांधी को इस योजना का ब्रांड एंबेसडर बनाया जाना चाहिए।

जाहिर है, कांग्रेस को यह नागवार गुजरा। और, इस पर पलटवार किया हुआ। खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने इस पर तीखी नराजगी जताते हुए कहा कि राहुल गांधी के लिए इस्तेमाल किए गए शब्द ठीक नहीं हैं। अमरजीत ने तंज कसा….योजना के शुरू होते ही गोबर बेचने के लिए सबसे पहले भाजपाई आएंगे।

उधर, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के राजनैतिक सलाहकार विनोद वर्मा ने बीजेपी नेता मुरलीधर राव के ट्वीट पर कहा कि गोबर समस्या नहीं है…आपकी दृष्टि में जो दकियानूसीपन है, दरअसल ये उसकी समस्या है।

इस सियासी जंग में आज पूर्व कलेक्टर और बीजेपी नेता ओपी चौधरी भी कूद पड़े। उन्होंने कहा, गोबर से बने जो कंडे शहरों में 8 से 10 रुपए और गावों में तीन से चार रुपए में बिकते हैं। राज्य सरकार उस सूखे गोबर को महज डेढ रुपए में खरीद रही है। ओपी ने कहा कि वे गोबर खरीदी के फैसले का स्वागत करते हैं। लेकिन सरकार को गोबर खरीदनी ही है, तो कम से दस रुपए किलो में खरीदी की जाए। ओपी चैधरी ने ये भी आरोप लगाया है कि गंगाजल लेकर झूठे वादे करने वाली सरकार गोबर खरीदी में भी किसानों को ठग रही है। ओपी चैधरी के इस सवाल पर कांग्रेस ने कहा है कि भाजपा दोहरी व दोगली राजनीति कर रही है।

Spread the love