7th pay commission: स्कूलों में 3692 पदों पर होगी भर्ती….शिक्षक सहित इन पदों पर निकलेंगे विज्ञापन….सातवें वेतनमान के अनुरूप मिलेगी सैलरी

रायपुर, 5 फरवरी 2021। प्रदेश में संचालित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों के लिए स्वीकृत नवीन सेटअप के अनुसार 3 हजार 692 पदों पर भर्ती की जाएगी। इन पदों की भर्ती सीधी भर्ती, पदोन्नती एवं प्रतिनियुक्ति के माध्यम से की जाएगी। प्रत्येक एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय के लिए 20-20 पद स्वीकृत किए गए हैं। आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रालय महानदी भवन में आयोजित राज्य स्तरीय आदिम जाति कल्याण आवासीय एवं आश्रम शैक्षणिक संस्थान समिति ’संचालक मंडल’ की बैठक में यह निर्णय लिया गया।

एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय के अमले के लिए स्वीकृृत प्राचार्य, उप प्राचार्य और पोस्ट ग्रेज्यूएट टीचर (पीजीटी) के पदों को राज्य स्तर से, ट्रेंड ग्रेज्यूएट टीचर (टीजीटी), ग्रंथपाल, संगीत शिक्षक, कला शिक्षक, शारीरिक शिक्षक, विशेष शिक्षक, छात्र पारामर्शदाता,  प्रयोगशाला सहायक, तकनीकी सहायक, लेखापाल, कार्यालय अधीक्षक, शैक्षणिक एवं व्यवसायिक मार्गदर्शक, छात्रावास अधीक्षक, केयरटेकर, वरिष्ठ सचिवालय सहायक, कनिष्ठ सचिवालय सहायक और चिकित्सा परिचायक के पदों की भर्ती जिला स्तर पर समिति द्वारा की जाएगी।

संचालक मंडल की बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रदेश में स्वीकृत 29 नवीन एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय को अंग्रेजी माध्यम से संचालित किया जाए। इस संबंध में जिला कलेक्टरों को पत्र जारी किया जा चुका है। इन विद्यालयों में सभी वैकल्पिक व्यवस्था हो गयी है। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि प्रदेश के सभी एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में स्काउड एण्ड गाईड की गतिविधि शुरू की जाएगी।

बैठक में बताया गया कि भारत सरकार जनजातीय कार्य मंत्रालय द्वारा सीसीडी योजना अंतर्गत प्रदेश में विशेष पिछड़ी जनजातियों के लिए 10 आवासीय विद्यालय स्वीकृत किए गए थे। पहले इन आवासीय विद्यालयों में स्वीकृत सीट संख्या 100 थी और यह विद्यालय कक्षा 6वीं से 10वीं तक संचालित हो रहे थे। अब इन आवासीय विद्यालयों में कक्षा पहली से पांचवीं तक को जोड़ा गया है और इससे सीट संख्या 100 से बढ़कर 200 हो जाएगी।

मंत्री डॉ. टेकाम ने इन आवासीय विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों और वहां दी जा रही सुविधाओं की भी समीक्षा की। बैठक में एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में बोर्ड परीक्षा को देखते हुए कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं को प्रारंभ करने के संबंध में चर्चा की गयी। निर्माणाधीन एकलव्य विद्यालय भवन के कार्य शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश संबंधित विभागीय एजेंसी के अधिकारियों को दिए गए।

सचिव आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास  डी.डी. सिंह ने कहा कि एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारने के लिए शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जाए। प्रदेश में संचालित इन आवासीय विद्यालयों में अधोसंरचना, शैक्षणिक गतिविधि, परीक्षा परिणाम, स्टाफ आदि के अनुसार रैंकिंग की जाए। कम रैंकिंग वाले विद्यालयों में आने वाली दिक्कतों को दूर किया जाए। इसके लिए अन्य प्रदेश के अच्छे स्कूलों का अध्ययन भ्रमण किया जा सकता है। बैठक में संचालक आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास श्रीमती शम्मी आबिदी सहित संचालक मण्डल में शामिल संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Spread the love